गोपालगंज के कटेया प्रखंड में कृषि विभाग द्वारा ओलावृष्टि से बर्बाद हुए फसलों का किया गया जांच

गोपालगंज के कटेया में बीते 4 फरवरी की रात ओलावृष्टि से बर्बाद फसलों का कृषि पदाधिकारियों के द्वारा जांच कर जायजा लिया गया। विभाग के अनुसार प्रखंड में 33% से कम क्षति का अनुमान लगाया गया है

बता दें कि 4 फरवरी की रात प्रखंड क्षेत्र में तेज बारिश के साथ ओलावृष्टि हुई थी।जिससे चारो तरफ बर्फ की चादर बिछ गई।ओलावृष्टि से रबी फसल पूरी तरह से बर्बाद हो गई है। जिसे देख किसान हताश हो चुके हैं। खेतों में हरियाली की जगह पीलापन छाने लगा है। खेतों में पानी भरा हुआ है। आलू, सरसों, मक्का ,मटर, बकला,अरहर,चना आदि दलहनी और तिलहनी फसलें बर्बाद हो चुकी है। प्रखंड के रामदास बगही गांव के किसान चंदन मिश्र ने बताया कि उनकी 1 एकड़ में 50 हजार से अधिक की पूंजी लगी थी। परंतु आलू की खेती पूरी तरह चौपट हो गई है।क्षति इतनी है कि थोड़ा भी आलू निकालना मुश्किल है। इसी तरह क्षेत्र के अन्य किसानों का भी हाल है। जिसको लेकर प्रखंड क्षेत्र में फसल क्षति की जांच कर जायजा लिया गया।

इस संबंध में प्रखंड कृषि पदाधिकारी रमन कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि प्रखंड में कुछ हिस्सों में ओलावृष्टि से क्षति हुई है। कहीं-कहीं आंशिक क्षति है। कुल मिलाकर क्षति 33% से अधिक नहीं है। 33% से अधिक होने पर ही रिपोर्ट किया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!