वैशाली में हुई एएसआई हत्याकांड आरोपी सरकारी रिवॉल्वर समेत गिरफ्तार

वैशाली। इसी वर्ष 8 जनवरी को छुट्टी से ड्यूटी पर  लौट रहे एएसआई अशोक राय को उन्ही के सर्विस से 4 गोलिया मार दी गई थी।इत्तिफ़ाकन घटना के लगभग 6 महिने बाद एएसआई हत्याकांड का वैशाली पुलिस ने खुलासा कर दिया है। इस बात की ताकीद वैशाली एसपी के बयान से भी होता है।

बकौल एसपी वैशाली पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी की अपराधी लूट की योजना बना रहे है। पुलिस ने सूचना के आधार पर छापेमारी कर उसके पास से एक कार और कई बैंको के लुटे हुए एटीएम कार्ड बरामद किया।गिरफ्तार अपराधी की निशानदेही पर पुलिस ने एक और अपराधी को गिरफ्तार किया जिसके पास से एक पुलिस का एक सर्विस रिवाल्वर और 25 जिंदा कारतूस बरामद किया गया। पुलिसिया रिवाल्वर की पहचान मृत दारोगा अशोक राय के रिवाल्वर के तौर पर हुआ। इसके बाद दारोगा हत्याकांड का खुलासा हुआ।

वही एसपी राकेश कुमार के अनुसार लूट की घटना का विरोध के दौरान एएसआई अशोक राय की हत्या हुई थी। एसपी ने बताया कि घटना के दिन यानी आठ जनवरी की शाम छह बजे के करीब चार अपराधी पटना से अपनी स्विफ्ट डिजायर गाड़ी से लौट रहे थे। उसी दौरान अपनी छुट्टी खत्म कर थाने लौट रहे मकतूल ने सदर थाना क्षेत्र के बीएसएनएल गोलंबर के पास पहुंचने के बाद वैशाली थाना में पदस्थापित अशोक राय ने वैशाली की तरफ जाने के लिए उनसे लिफ्ट मांगा। इन अपराधियों ने दारोगा को अपनी गाड़ी की पिछली सीट पर बैठा लिया और लालगंज की तरफ चल दिए। जैसे ही ये लोग अंजानपीर चौक से आगे बढ़े तो इन अपराधियों ने राय से ही लूटपाट शुरू कर दी।

वहीं, एएसआई अशोक राय ने इसका विरोध किया लेकिन अपने पर अपराधियों को हावी होता देख उन्होंने अपने सर्विस रिवाल्वर से अपराधियों पर फायरिंग कर दिया, जिसमें एक अपराधी को गोली लग गई। जिसके बाद अपराधियों ने दारोगा को गाड़ी के पीछे वाली सीट पर ही दबोच लिया और उन्हीं के सर्विस रिवाल्वर से दनादन चार गोली दाग दी, जिससे एएसआई अशोक राय की मौत हो गई।

एसपी के अनुसार साक्ष्य छिपाने के उद्देश्य से इन अपराधियों ने लालगंज रोड के बगल से लिंक रोड होते हुए चवर में पुलिया के नीचे शव को फेंक कर फरार हो गए। इस मामले में पुलिस ने एक और अपराधी की गिरफ्तारी किया है।एसपी के अनुसार दारोगा अशोक राय को जिस अपराधी ने गोली मारी थी उसकी पहचान कर ली गई है और उसकी गिरफ़्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!