गोपालगंज के मीरगंज नगर परिषद में डेंगू का बढ़ता प्रकोप, अब तक दो लोगो की हो चुकी है मौत

गोपालगंज में डेंगू के प्रकोप से जहाँ दो लोगो की मौत हो गयी है। वही इस बीमारी से करीब आधा दर्जन लोग अभी भी बीमार है। जिले के मीरगंज नगर परिषद के वार्ड नम्बर 6, 11 और 12 में डेंगू का प्रकोप बढ़ा है। मीरगंज में अब तक दो लोगो की मौत हो चुकी है। मृतकों में 45 वर्षीय राजकुमार गुप्ता और 19 बर्षीय छोटू कुमार शामिल हैं। जिनका मौत ईलाज के दौरान एक सप्ताह पहले पटना और लखनऊ में हुआ है। वहीं मीरगंज नगर परिषद अध्यक्षा के पति सहित आधा दर्जन लोग अभी अभी डेंगू की चपेट में है। फिलहाल इन सभी लोगों का ईलाज गोरखपुर में चल रहा है।

मीरगंज नगर परिषद इलाके में सड़क पर फॉगिंग हो रही है, तालाब में ब्लीचिंग पाउडर डाले जा रहे हैं। जहां डेंगू का प्रकोप इस कदर है कि लोग खौफ में रहने को मजबूर हैं। खौफ इसलिए है, क्योंकि इस इलाके में डेंगू 2 लोगों की जान ले चुका है। जबकि 20 से ज्यादा लोग अलग-अलग अस्पतालों में इलाज करा रहे हैं। मीरगंज के ग्रामीणों का कहना है कि डेंगू बीमारी का मुख्य कारण शहर में जल जमाव और गंदगी है जिसके वजह से डेंगू मछड़ो का प्रकोप बहुत ज्यादा हो गया है। यही वजह है कि मीरगंज शहर के कई वार्डो में डेंगू के मरीज हो रहे है। अगर मीरगंज नगर परिषद के द्वारा शहर में समय-समय पर फॉगिंग कराई जाती और नाली व कूड़े की साफ सफाई से कराई जाती तो इस बीमारी का प्रकोप नही होता। स्थानीय निवासी लोगों का कहना है कि दुखद है मीरगंज में डेंगू से 2 लोगो की मौत हो गई है। वही बहुत लोग पीड़ित हैं। हर रोज जांच में कुछ लोगो में डेंगू पाया जा रहा है। बीमारी फैलने के बाद नगर परिषद चेत रहा है।

मीरगंज नगर परिषद डेंगू के खिलाफ लड़ने की पूरी व्यवस्थाओं का दावा कर रहा है। दावा है कि वह प्रत्येक वार्ड में लगातार फॉगिंग कर रहा है। लेकिन इलाके के लोगों का कहना है कि हर साल डेंगू कहर बरपाता है। ऐसे हालात में नगर परिषद तैयारियां पहले क्यों नहीं करता है। डेंगू का लार्वा पनपने के बाद यह कदम क्यों उठाया गया। मीरगंज नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी का कहना है कि 25 अगस्त से फागिंग कराई जा रही है। साथ ही लोगों को भी जागरूक करने के लिए प्रचार प्रसार के लिए जागरूकता रैली निकाली जा रही है। उन्होंने कहा कि जिनकी मौत हुई, उनमें डेंगू के अलावा कई अन्य बीमारियां थी।

वहीं गोपालगंज डीएम डॉ नवल किशोर चौधरी ने बताया कि मीरगंज में लोगो को जागरूक किया गया है। अलाउंसिंग कराया जा रहा है। साथ ही छिड़काव कराया जा रहा है। लोगो से अपील की जा रही है कि यदि तेज बुखार व कमजोरी लगता है तो तुरंत सरकारी अस्पताल में जांच कराये।

बहरहाल डेंगू के प्रकोप से लोग भयभीत हैं। वहीं दूसरी तरफ मांगी इलाज और इंतजाम को लेकर परेशान हैं। ऐसे में जरूरत है प्रशासन को डेंगू के लार्वा को खत्म करने की। ताकि लोग डेंगू के प्रकोप से निजात पा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected By Awaaz Times !!