शहीद की बेटी ने पीएम से पिता के बदले मांगे 50 पाक सैनिकों के कटे हुए सिर

सोमवार को जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में पाकिस्तानी सेना की फायरिंग में दो भारतीय जवान शहीद हो गए थे. इनमें बीएसएफ के हेड कॉन्सटेबल प्रेम सागर भी शामिल है. प्रेम सागर के अलावा जेसीओ परमजीत सिंह हमले में शहीद हो गए थे. पाकिस्तान सेना द्वारा जवानों की हत्या करने के बाद उनके शरीर को क्षत-विक्षत कर दिया गया. पाकिस्तान सेना की इस बर्बरता का पूरे देश में विरोध हो रहा है. लोग सरकार से मांग कर रहे हैं, पाकिस्तान को उसी की भाषा में जवाब दिया जाए.

शहीद प्रेम सागर की मौत की खबर सुनकर उनके परिवारवालों का बुरा हाल है. प्रेम सागर की बेटी ने पिता की शहादत के बदलने 50 सिरों की मांग की है. उनकी बेटी सरोज ने कहा, “प्रशासन की ओर से पिता (प्रेम सागर) की मौत की कोई जानकारी नहीं दी गई. पिता की कुर्बानी के बदले 50 पाकिस्तानी सैनिकों के सिर चाहिए.”

बीएसएफ में हेड कॉन्सटेबल के पद पर तैनात प्रेम सागर मूल से उत्तर प्रदेश के देवरिया गांव के टीकमपार गांव के रहने वाले हैं. उनकी मौत की खबर सुनते ही देवरिया में मातम छा गया. शहीद प्रेम सागर के छोटे भाई दया शंकर ने कहा, “भाई की शहादत पर गर्व है, लेकिन सरकार को उनके परिवार के बारे में सोचना चाहिए. साथ ही उन्होंने सरकार से इस तरह के मामले में सख्ती से निपटने और पाकिस्तान को उचित सबक सीखाने की मांग की है.” वहीं, 22 सिख रेजीमेंट के नायब सूबेदार परमजीत सिंह मोगा के परिवार वालों को रो-रो कर बुरा हाल बना हुआ है.

जम्मू-कश्मीर की कृष्णा घाटी में पाकिस्तानी सेना द्वारा किए गए हमले में दो जवानों के शहीद होने की खबर है. पाकिस्तानी सेना ने शहीदों के शव के साथ बेहद शर्मनाक हरकत की है, जिसके बाद पूरा देश बदले की आग में खौल में रहा है. वहीं दूसरी ओर शहीद प्रेम सागर की बेटी ने सरकार से अपने पिता के बदले 50 पाकिस्तानी सैनिकों के कटे हुए सर की मांग की है. हालांकि सेना ने इसका बदला लेते हुए 10 पाक सैनिकों को मौत के घाट उतार दिया है.

गौरतलब है कि सोमवार को सुबह पाकिस्तान की ओर से सीजफायर का उल्लंघन करते हुए फायरिंग और राकेट दागे गए थे. पाक की ओर से की गई फायरिंग में दो जवान शहीद हो गए थे. शहीद जवान के शरीर के साथ पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम (BAT) ने बर्बरता की थी. भारत की ओर से पाकिस्तान को करारा जवाब देने की बात कही गई है. इसी क्रम में खबरें आ रही है भारतीय सेना ने जवाबी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान की दो चौकियां को तबाह कर दिया. इस कार्रवाई पाकिस्तान सेना के 7 जवान मारे गए हैं. वहीं, देश में यह मांग उठ रही है कि पाकिस्तान को सबक सीखाने के लिए भारतीय सेना को खुला समर्थन दिया जाना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!