बिहार के बाहर दूसरे राज्यों में फंसे छात्रों को वापस लाने के लिए बिहार सरकार बनाएगी विशेष पास

लॉकडाउन की वजह से बिहार के बाहर फंसे छात्रों को वापस कैसे लाया जाए, इसे लेकर नीतीश कुमार की सरकार लगातार विरोधियों के निशाने पर है. इस बीच केंद्र सरकार के एक फैसले ने नीतीश सरकार को बड़ी राहत दी है. केंद्र ने बिहार के बाहर फंसे मजदूरों को लाने के लिए विशेष ट्रेन चलाने की घोषणा कर दी है. साथ ही छात्रों को लाने के लिए भी विशेष ट्रेन चलाने की तैयारी है. बिहार सरकार ने बड़ा फैसला करते हुए उन लाखों छात्रों के माता-पिता को राहत दी है जिनके बच्चे बिहार के बाहर लॉडाउन में फंसे हुए हैं.

आपदा विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय ने बताया कि बिहार के बाहर लॉकडाउन की वजह से फंसे हुए छात्रों के माता-पिता संबंधित जिलाधिकारी से संपर्क कर पास निर्गत करवा सकते है. वो इस विशेष पास के सहारे अपने वाहन से भी बच्चों को बाहर के राज्यों से ला सकते हैं. हालांकि जब छात्र बिहार आएंगे तो उन्हें 21 दिन तक होम क्‍वारंटाइन में रहना होगा. साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का भी पूरा ख्याल रखना होगा.

दरअसल, एक अनुमानित आंकड़े के मुताबिक बिहार के बाहर लाखों की संख्या में छात्र-छात्राएं पढ़ते हैं या प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करते हैं. कोरोनावायरसके चलते लागू हुए लॉकडाउन से ऐसे छात्र अन्य जगहों पर फंसे हुए हैं. इन्हें लेकर लगातार बिहार सरकार विरोधियों और अभिभावकों के निशाने पर है. नीतीश सरकार के इस फैसले ने वैसे तमाम छात्र-छात्राओं के माता-पिता को खुश कर दिया है जो अपने बच्चे को लेकर परेशान थे.

One thought on “बिहार के बाहर दूसरे राज्यों में फंसे छात्रों को वापस लाने के लिए बिहार सरकार बनाएगी विशेष पास

  • May 5, 2020 at 12:13 pm
    Permalink

    हम बिहार अना चहता हू केसे आऊ
    बताओ 7004788340

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!