चंदा बाबु के बेटे और शहाबुद्दीन के काफ़ी अच्छे थे सम्बन्ध

बाहुबली मो. शहाबुद्दीन बाहर हीं रहेंगे या दोबारा जेल जायेंगे, इसका फ़ैसला सोमवार 26 सितम्बर को सुप्रीम कोर्ट करेगी. लेकिन, इन सबके पहले हीं चंदा बाबू ने कुछ ऐसा बताया जिससे सनसनी फैल गई है. उन्होंने बताया कि जब शहाबुद्दीन उनके दुकान का उद्घाटन करने पहुंचे थे तो, मुझसे मेरे दुकान की मांग की.

मो. शहाबुद्दीन ने एक न्यूज एजेंसी को दिए इंटरव्यू में कहा था कि मैंने चंदा बाबू का घर बनवाया था. उनका बिजनेस भी मैंने हीं सेटअप किया था. लेकिन अब वो पॉलिटिक्स के चक्कर में फंसकर अपने बेटों के हत्या का आरोप मुझपर हीं लगा रहे हैं. चंदा बाबू ने तेजाब हत्याकांड आरोपी पूर्व सांसद मो शहाबुद्दीन को आरोपित किया है.

कहा है शहाबुद्दीन ने हीं मेरे तीनों बेटों को मौत के घाट उतरा है. मेरे दुकान के उद्घाटन पर वे आए थें. उसके अगले दिन हीं वो मेरे बेटे को बुलवाकर मेरी दुकान मांगने लगे. जब हम तैयार नहीं हुए तो, वो लोग हमसे दो लाख की रंगदारी मांगने लगे. इतने पर भी जब हम तैयार नहीं हुए तो उन्होंने मेरे बेटों की हत्या कर दी. अब वो कहते हैं कि उन्होंने मेरा मकान बनवाया था.

चंदा बाबु के बेटों से शहाबुद्दीन के अच्छे संबंध थे. यह बात तो हर कोई कहता है. शहाबुद्दीन के घर पर भी उनका आना जाना हमेशा होते रहता था. इस बात पर चंदा बाबू कहते हैं कि ये गलत है, ऐसा नहीं था. लेकिन, हां कभी-कभी मेरे बेटे उनसे मिलते थे. शहाबुद्दीन नेता थे यही वजह है कि मेरे बेटे उनसे मिलते थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!