गोपालगंज: कोढ़ा गिरोह के 4 चोर चढ़े पुलिस के हत्थे, कई राज्यों में चोरी की वारदान को देते थे अंजाम

गोपालगंज के कटेया थाने की पुलिस को प्रखंड मुख्यालय में बाइक से हुई 1 लाख रुपये चोरी मामले में बड़ी सफलता मिली है। पुलिस ने पकड़े गए चोरों से पूछताछ के बाद गुरुवार को जेल भेज दिया।

विदित हो कि विगत 12 सितंबर को बेलही खास पंचायत के बीडीसी प्रतिनिधि सरवन यादव ने पीएनबी की शाखा कटेया से 1 लाख रुपये निकालकर प्रखंड मुख्यालय किसी कार्यवश गए थे। जहां पहले से घात लगाए चोरों ने उनकी खड़ी बाइक से 1 लाख रुपये की चोरी कर ली गई। चोरी की घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी। जिसके बाद बीडीसी प्रतिनिधि सरवन यादव ने अंचल कार्यालय, नगर पंचायत कटेया सहित कटेया नगर में लगे कई सीसीटीवी कैमरा का अवलोकन किया गया और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर चोरों की पहचान करने की कोशिश की जाने लगी।

इसी बीच 19 सितंबर को कटेया से पकहां जाने वाली मुख्य पथ पर चोरों को जाते हुए बीडीसी प्रतिनिधि सरवन यादव ने देखा। साथ ही उन्होंने सीसीटीवी फुटेज से मिलान किया तो उन्हें पहचानने में मदद मिली। उनके द्वारा हो हल्ला करने पर चोर पकहां बाजार होते हुए आगे भागने लगे। जिसके बाद ग्रामीणों एवं दुकानदारों के सहयोग से अपाची व ग्लैमर बाइक सहित चारों चोरों को ग्रामीणों ने पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस द्वारा पूछताछ के क्रम में चोरों ने प्रखंड मुख्यालय से हुई चोरी की घटना को स्वीकार कर लिए। पुलिस के द्वारा सख्ती से पूछताछ करने पर कई महत्वपूर्ण खुलासे हुए हैं। पकड़े गए चोर कटिहार जिले के कोढ़ा थाना क्षेत्र के नया टोला जोरब गंज के रहने वाले बताए जाते हैं। चोरों ने अपना नाम सोनू निगम यादव, चिंटू यादव, कन्हैया यादव एवं संदीप यादव बताया है। जिसकी पुष्टि कटेया थाने की पुलिस ने भी की है।

पुलिस द्वारा पूछताछ के दौरान चोरों ने बताया कि हम लोग घूम घूम कर अलग अलग जिला मुख्यालय में अपना ठिकाना बना कर चोरी की वारदात को अंजाम देते हैं। बिहार के अलावे हमलोग आसाम और बंगाल में भी चोरी की वारदात को अंजाम देते रहे हैं। हर घटना को अंजाम देने के बाद बाइक का नम्बर प्लेट बदल देते थे। जिससे इनकी पहचान में दिक्कत होती थी। वही पुलिस के द्वारा उनके बताए ठिकानों पर छापेमारी की गई। जिसके बाद तीन बाइक बरामद की गई है। पकड़े गए चोरों से कई थानों की पुलिस पूछताछ कर रही थी। पुलिस के लिए कोढ़ा गिरोह सरदर्द बना हुआ था। पकड़े गए चोर कटेया थाने के अलावा फुलवरिया थाने की एक चोरी की घटना में भी संलिप्तता स्वीकार की गई है। वहीं पुलिस ने पकड़े गए चोरों से पूछताछ के बाद गुरुवार को न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!