गोपालगंज: टीबी से संक्रमित माँ बच्चे को करा सकती है स्तनपान, स्तनपान के वक्त मास्क लगाना जरूरी

गोपालगंज: टीबी संक्रमण के बीच माँ, बच्चों से जुड़े खतरे को लेकर चिंतित रहती हैं। वह अपने बच्चों के लिए चिंतित हो जाती कि बच्चों को स्तनपान करा सकती है या नहीं। परिवार कल्याण मंत्रालय ने पोस्टर जारी कर बताया है कि टी.बी. है तो भी आप अपने शिशु को स्तनपान करवा सकती हैं, बशर्ते आप दो हफ्तों से टी.बी. की दवा ले रही हैं। टी.बी. की दवाओं की केवल थोड़ी सी ही मात्रा स्तनदूध में मिलती है, इसलिए शिशु को स्तनपान करवाना सुरक्षित होता है।

टीबी संक्रमित माँ भी कर सकती नवजात की देखभाल: स्तनपान के जरिए टीबी का खतरा नहीं है । इसलिए टीबी से संक्रमित महिलाएं भी शिशु को अपना दूध पिला सकती हैं। टीबी से संक्रमित या संक्रमण का संदेह होने पर भी शिशु को अपना दूध पिलाने के लिए मां को प्रोत्साहित किया जाना चाहिये। जब तक मां बहुत ज्यादा बीमार नहीं हैं, बच्चे को उससे अलग नहीं किया जाना चाहिये। मां बच्चे के जन्म के बाद घर जा सकती हैं तो तुरंत अस्पताल से घर जायें। अगर अस्पताल में रहना जरूरी हो तो अलग रूम में रहें। अन्य लोगों से संपर्क ना के बराबर रखें।

स्तनपान से पहले मां लगाएं मास्क: स्तनपान से पहले मां को मास्क लगाना चाहिये। शिशु को छूने से पहले और बाद में अपने हाथ धोने चाहिये और नियमित रूप से आसपास की सतहों को साफ और संक्रमणमुक्त करना चाहिए। दरअसल, कई बार देखा गया है कि स्तनपान के दौराम मां को खांसी होने लगती है या फिर अन्य कोई समस्या। उस लिहाज से ऐसा करने से टीबी के संक्रमण का खतरा कम रहेगा और बच्चे भी सुरक्षित रहेंगे।

बच्चों मे बी.सी.जी. का टीका टीबी के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करता है: सीएस डॉ वीरेंद्र प्रसाद ने बताया शिशु में टी.बी न होने की संभावना सुनिश्चित करने के लिए शिशु को जन्म के बाद जल्द ही टी.बी. से बचाव के लिए सभी टीके लगाना चाहिए । जन्म के बाद कम से कम पहले छह महीनों तक शिशु को स्तनपान करवाएं। शिशु के आसपास की जगह साफ रखें और वहां हवा की आवाजाही बनी रहनी चाहिए। घर में सूरज की पर्याप्त रोशनी आने दें। टी.बी. के जीवाणु चारों तरफ से बंद, तंग और अंधेरे में अधिक पनपते हैं। टी.बी. से बचाव के लिए बच्चों को बीसीजी टीके लगाना चाहिए। टीका टी.बी. पैदा करने वाले जीवाणु को कमजोर करता और यह गंभीर से गंभीर प्रकार के टी.बी. के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करता है।

स्तनपान के समय इन नियम का करें पालन :

  • मां हमेशा मास्क पहनकर रहे.
  • सांस लेने में स्वच्छता के नियमों का पालन करे.
  • नवजात शिशु को उठाने से पहले और बाद में हाथ जरूर धोएं। यह नियमित रूप से हर बार करना होगा।
  • बच्चे को लेकर घर या अस्पताल कहीं भी जाने पर साफ-सफाई और शारीरिक दूरी का का विशेष ध्यान रखें।
  • छींक या खांसी आ रही हैं तो मास्क लगाकर स्तनपान कराएं। फिर परिवार के किसी दूसरे से सदस्य को दे दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!