गोपालगंज में नई नवेली दुल्हन चुनाव जीत कर बनी मुखिया, निवर्तमान मुखिया को 1768 वोट से हराया

गोपालगंज में नई नवेली दुल्हन के मुखिया बनने का रोचक मामला सामने आया है। नई नवेली दुल्हन की महज 3 सप्ताह पूर्व शादी हुई थी। और शादी के बाद ही वह मुखिया बन गई। जो लोगों के बीच में चर्चा का विषय बना हुआ है। मामला कुचायकोट के बनकटा पंचायत का है। जहा नवनिर्वाचित मुखिया का नाम नीरा कुमारी है। वह गोपालगंज के चौकीदार दफादार संघ के जिलाध्यक्ष दीनानाथ माझी की पुत्र वधू है।

बताया जाता है कि दीनानाथ माझी की पत्नी दो बार से पंचायत चुनाव में नामांकन की। लेकिन उनका मायका उत्तर प्रदेश होने की वजह से रद्द हो गया। जिसके बाद दीनानाथ मांझी ने अपने बेटे अरुण कुमार मांझी की शादी उचकागांव के भुवल निवासी नीरा कुमारी से की।
बिना लगन और बिना बैंड बाजा बाराती के ही शादी यह शादी 23 अक्टूबर को सम्पन्न हुआ। शादी के अगले सप्ताह ही नीरा ने 01 नवंबर को कुचायकोट में बनकटा पंचायत चुनाव से मुखिया पद के लिए नामांकन किया। 15 नवंबर को सातवे चरण में कुचायकोट प्रखंड का चुनाव सम्पन्न हुआ। 17 नवम्बर को वोटों की गिनती की गई। वोटों की गिनती में मीरा कुमारी को 2356 वोट मिले और वह नई नवेली दुल्हन करीब 1768 के रिकॉर्ड मत से मुखिया बन गई।

नीरा के मुखिया बनने के बाद पंचायत के लोगों में खुशी की लहर है। हर कोई बिना लगन के ही चट मंगनी पट विवाह और उसके बाद तुरंत मुखिया बनने का जिक्र कर खूब चर्चा कर रहे हैं। नवनिर्वाचित मुखिया नीरा कुमारी का कहना है कि वह अपने पंचायत का विकास करेंगी और अपने किए गए वादों को पूरा करने का हर संभव प्रयास करेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!