गोपालगंज: गौ तस्करी के बड़े रैकेट का भंडाफोड़, पुलिस ने उत्तर प्रदेश बॉर्डर पर की बड़ी कार्यवाही

गोपालगंज: मंगलवार की रात्रि कटेया थाना क्षेत्र के भागिपट्टी झील में मंदिर के पास एक चारदीवारी के अंदर लगभग सैकड़ो पशुओं के इकट्ठा होने की खबर कटेया थानाध्यक्ष सुमन कुमार मिश्रा को मिला। उत्तर प्रदेश के गौ रक्षा दल और बिहार के हिंदुयुवा वाहिनी के सदस्यों ने उक्त जानकारी कटेया थानाध्यक्ष को उपलब्ध कराई और जांच की मांग की। इसपर तत्काल कटेया थाना के एस आई संजय कुमार घटना स्थल पर पहुँच कर जांच शुरू की। मौके पर एक ट्रक और चार पिकअप मौजूद थे तथा सैकड़ो पशु अचेता अवस्था मे गाडियो पर लादे जा रहे थे। पुलिस की खबर मिलने के बाद अगल बगल के ग्रामीण भी इकठ्ठा हो गए। पुलिस और ग्रामीणों के मौजूदगी देख कर वहाँ मौजूद तस्कर और गाड़ियों के ड्राइवर फरार हो गए।

पुलिस भीड़ को समझ बुझाकर रात भर घटना स्थल पर ही मौजूद रही सुबह थानाध्यक्ष सुमन कुमार मिश्रा घटना स्थल पर पहुच कर स्थानीय लोगो के सहयोग से भूखे प्यासे पशुयों को जिम्मेनामा के आधार पर पशुयों की देख भाल के लिए लोगो मे वितरण कर दिया। जैसे जैसे यह खबर थाना क्षेत्र में फैलने लगी घटना स्थल पर भीड़ इकट्ठा होने लगी।

इस संबंध में सन्यासी महेश दास ने बताया कि यहाँ से बड़े पैमाने पर पशु तस्करी का कार्य किया जा रहा था जिसकी जानकारी मिलने के बाद स्थानीय लोगो के सहयोग से पुलिस को खबर कर गौ तस्करी को रोका गया है। मौके पर सैकड़ो ग्रामीण मौजूद थे।

कटेया थानाध्यक्ष सुमन कुमार मिश्रा ने बताया कि उक्त स्थल पर उत्तर प्रदेश के जितेंद्र सिंह नामक ब्यक्ति विगत बर्षो से यह धन्धा कर रहा था। जितेंद्र सिंह का ससुराल भागिपट्टी झील में है जो अपने रिस्तेदारो के सहयोग से यह धंधा चला रहा था ।घटना के समय जितेंद्र सिंह घटना स्थल पर मौजूद नही था उसकी पत्नी मौजूद थी जो पुलिसिया कार्यवाही का विरोध कर रही थी। जब्त गाडियो को पुलिस कटेया थाना में ले आई और मामले की जांच में जुट गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!