गोपालगंज में ममता कर्मिओ ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रबंधक पर घुस लेने का लगाया आरोप

गोपालगंज में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर काम करने वाली ममता कर्मिओ ने पीएचसी प्रबंधक पर जहा वेतनमान निकासी के लिए घुस लेने का आरोप लगाया है। वही इस मामले को लेकर ममता कर्मिओ ने गोपालगंज महिला थाना में एक लिखित आवेदन भी दिया है। जिसमे बैकुंठपुर पीएचसी के स्वास्थ्य मनैजेर के ऊपर वेतन निकासी के लिए प्रत्येक ममता कर्मी से 10 हजार की दर से एक लाख रूपये की रिश्वत लेने का आरोप लगाया है।

अपनी इन्ही आरोपों के साथ दस की संख्या में बैकुंठपुर पीएचसी की ममता कर्मी गोपालगंज महिला थाना पहुची और यहाँ उन्होंने महिला थानाध्यक्ष को लिखित शिकायत पत्र सौपा। जिसमे बैकुंठपुर पीएचसी के हेल्थ मनैजेर अखिलेश दूबे के खिलाफ रिश्वत लेने और जातिसूचक शब्दों के साथ गली गलौज करने का आरोप लगाया है। पीड़ित ममता कर्मिओ ने पीएचसी मैनेजर के खिलाफ एससी एसटी के तहत मुकदमा दर्ज कर कारवाई करने की मांग की है।

ममता कर्मी कलावती देवी के मुताबिक वे बैकुंठपुर में ममता कर्मी एक पद पर तैनात है। यहाँ वे महिला थाना में आवेदन देने के लिए गुहार लगाने आई है। उनका आरोप है की बैकुंठपुर पीएचसी के हेल्थ मैनेजर अखिलेश दूबे ने उनके साथ 10 ममता कर्मिओ को एक कमरे में बुलाया और सभी ममता से से 10 – 10 हजार रूपये की मांग की गयी। हेल्थ मैनेजर के द्वारा उन्हें पुराने भुगतान के बदले दस हजार रूपये प्रत्येक से जमा करने का निर्देश दिया गया था। प्रत्येक ममता का पूर्व भुगतान करीब डेढ़ डेढ़ लाख रूपये का मानदेय लंबित था। जिसके बदले उनसे डेढ़ एक लाख की वसूली की गयी। पैसे वसूली के बाद भी उनका लंबित भुगतान नहीं कराया गया।

ममता कर्मी संगीता देवी के मुताबिक उनसे भी हेल्थ मैनेजर साहब के द्वारा वेतन निकालने के नाम पर दस हजार रूपये रिश्वत लिए है और पैसा लेने के बाद भी उनका भुगतान नहीं किया गया। इसके साथ ही उनके द्वारा तीन और ममता का फर्जी तरीके से बहाली की गयी। जबकि बहाली करने के लिए कोई वैकेंसी भी नहीं निकाली गयी थी। जब उनके द्वारा अपने वेतन की मांग की गयी तो हेल्थ मैनेजर ने उन्हें जातिसूचक शब्दों का प्रयोग कर भगा दिया।

पीड़ित ममता कर्मिओ ने महिला थाना में हेल्थ मैनेजर के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर क़ानूनी कारवाई की मांग की गयी। इस मामले में जब आरोपी हेल्थ मैनेजर अखिलेश दूबे से बात की गयी तो उन्हें अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया है और कहा की उनके द्वारा किसी भी ममता की बहाली नहीं की गयी है। सभी ममता की बहाली पूर्व हेल्थ मैनेजर के द्वारा किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!