गोपालगंज के बैकुंठपुर में हुए छात्र कुणाल हत्याकांड में गिरफ्तार दोनों साथी को भेजा गया जेल

गोपालगंज के बैकुंठपुर में कुणाल की हत्या मामले में गिरफ्तार दोनों अपराधियों को पुलिस ने शनिवार को जेल भेज दिया। गिरफ्तार दोनों बदमाशों ने पूछताछ में बहुत से चौकानें वाली  बात पुलिस को बताया है।

पूछताछ में अपराधियों ने बताया कि हत्या जलन के कारण किया गया है। जलन क्या थी यह सुनकर अजीब लगेगा। पुलिस सूत्रों ने बताया कि बैकुंठपुर गांव निवासी सोनू कुमार को कुणाल उर्फ़ भोलू सिंह से सिर्फ इस बात की जलन थी कि कोई लड़की सिर्फ कुणाल से बात करती थी।जबकि सोनू भी चाहता था उससे बात करना। इसी बात को लेकर सोनू को उससे चिढ़ थी। तथा उसके अगवा करने के दो दिनों पूर्व सोनू ने मछली का पार्टी किया था। जिस पार्टी में इनके बीच विवाद भी हुआ था। उसके बाद फिर एक पार्टी कंप्रोमाइज के लिए किया था और उस दिन बात लगभग सलट भी गई थी। फिर उसके बाद उसका कुछ अंश उस दिन रह गया था। जिसकी आग सुलगते हुए 27 की शाम को हत्या तक पंहुच गई। इस कांड में दो और नामजद के गिरफ्तारी के पुलिस छापेमारी कर रही है।

गौरतलब है की सोनू कुमार और उसके अन्य साथी बराबर मछली और मटन का पार्टी करते रहते थे। जिसमे वे कुणाल को भी बुलाते थे और कुणाल किसी दिन जाता किसी दिन बहाना बना देता। उसकी हत्या के दो दिन पूर्व भी मछली की पार्टी उन लोगो द्वारा रखा गया था। जिसमे छह किलो मछली कुणाल ही बनौरा बाजार से खरीद कर ले गया था। हत्या के दिन भी उसे उसके दोस्तों ने पार्टी के नाम पर ही बुलाया था। 27 जनवरी को सोनू ने जब फ़ोन कुणाल उर्फ़ भोलू को बुलाया तो मात्र तीन घंटे बाद ही उसकी हत्या कर दी। लेकिन पुलिस को भ्रमित करने के लिये फिरौती का फ़ोन जगह-जगह से करवाता रहा। हत्या का मुख्य सूत्रधार और एक सहयोगी को पुलिस ने जेल भेज दिया है। पकड़े गये अपराधियों में बैकुण्ठपुर गांव निवासी ध्रुपदेव राय के पुत्र सोनू कुमार तथा पिपरा गांव निवासी इनर यादव का पुत्र वीरेन्द्र प्रसाद यादव को पुलिस ने जेल भेज दिया। जबकि अन्य दो की गिरफ्तारी के लिए पुलिस अभी लगातार छापेमारी कर रही है।

गोपालगंज एएसपी विनय तिवारी ने बताया की कुणाल की हत्या में शामिल दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। अनुसंधान में अन्य लोग भी आते है, तो उनके ऊपर भी शख्त से शख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा शेष बचे दो के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। शीघ्र ही सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे।

बता दे की बनौरा गांव में आठवीं कक्षा के छात्र कुणाल की हत्या के बाद शनिवार को तीसरे दिन भी गांव में सन्नाटा पसरा रहा। दिलीप सिंह के घर परिजनों को सांत्वना देने के लिए लोगों का तांता दिन रात लगा रहा। जनप्रतिनिधि से लेकर बुद्धजीवी तक, आसपास के लोग, सगे-संबंधी सहित अन्य ग्रामीण भी छात्र के घर पहुंच कर परिजनों को सांत्वना दे रहे हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!