Mon. Aug 26th, 2019

गोपालगंज में 12 सालों से एक मुस्लिम परिवार मना रहा है छठ पर्व

गोपालगंज जिला के थावे थाना क्षेत्र के चनावे गांव में एक ऐंसा मुस्लिम परिवार भी है जो पिछले 12 सालों से छठ पर्व मना रहा है। यह कार्य आज के परिवेश में सामाजिक सदभावना का सबसे अच्छा उदाहरण शाबित हो रहा है। यह दो मुस्लिम महिलाएं शाहजहां और नेशा खातून हैं।

जानकारी के अनुसार शाहजहां और नेशा खातून करीब 12 वर्षों से लोकआस्था के महापर्व छठ का व्रत रखकर कौमी एकता की अनूठी मिसाल पेश कर रही हैं। थावे प्रखंड का यह गांव दोनों समुदाय के लोगों में आपसी प्रेम- भाईचारा बनाए रखने का संदेश दे रहा है।

इसी गांव के हसमुद्दीन का कहना है कि उनकी पत्नी दो साल से छठ करती हैं। उनको चार बेटियां ही थीं। लेकिन, जब उनलोगों की मन्नत मांगी तो बेटा पैदा हुआ। अब उनका बेटा अरमान घर में चलने- फिरने लगा है। घर में हंसी – खुशी आ गई है। इसलिए पत्नी नेशा खातून छठ का व्रत रखती हैं। नेशां का कहना है कि उनके लिए तो अल्लाह और ईश्वर में कोई अंतर नहीं है। सभी तो एक ही हैं। हमारे घर में बेटा छठ मइया की कृपा से आया तो व्रत करने में क्या है।

इस गांव में रहनेवाले करीब 20 परिवार अल्पसंख्यक ऐसे हैं, जो छठ का पर्व पूरी निष्ठा और पाकीजगी के साथ करते हैं। भले ही छठ का नहा – खा शुक्रवार को है, लेकिन एक दिन पहले से ही यह परिवार अपने घर- दुआर की सफाई कर चुका है। साथ ही, हिन्दू भाइयों के साथ ये लोग छठ घाट पर छठी मइया की सिरसोपता को भी साफ और रंग- रोगन में करने में जुटे हुए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!