रामजेठमलानी को शहाबुद्दीन का केस नहीं लड़ना चाहिए – सुशिल मोदी

भाजपा के वरिष्ट नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने बताया कि राम जेठमलानी सिर्फ वरिष्ट वकील हीं नहीं, वो राज्य में शासित महागठबंधन में शामिल दल राजद के सांसद भी हैं. इसलिए मो शहाबुद्दीन का केस उन्हें नहीं लड़ना चाहिए. सीएम नीतीश कुमार के अंदर इतनी हिम्मत भी नही है कि वो राजद से जेठमलानी को बाहर करने का दबाव डाल सकें.

सूमो का आरोप है कि बिहार सरकार सर्वोच्च न्यायालय में पूर्व सांसद शहाबुद्दीन के विरूद्ध इस केस को लेकर गंभीर नही हैं. इस केस में नीतीश कुमार ने जूनियर वकील खड़ा किया है. शहाबुद्दीन की जमानत ख़ारिज करने के लिए, राज्य सरकार व अपने बेटों को खोने वाले चंदा बाबू की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व सांसद से 26 सितंबर तक यह बताने को कहा है कि क्यों नहीं उनकी जमानत रद कर दी जाए?

इस नोटिस एसटीएफ के जरिए बाहुबली को तामीला करा दी जा चुकी है. इस दौरान मो. शहाबुद्दीन का एक विश्वसनीय आदमी वकालतनामा की कॉपी लेकर दिल्ली जा पहुंचा है. सोमवार के दिन मशहूर वरिष्ट वकील राम जेठमलानी मो. शहाबुद्दीन की तरफ से अदालत में पक्ष रखेेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!