2 अक्टूबर से बिहार में नया शराब बंदी कानून, शराब पकड़े जाने या पीने पर जमानत नहीं

गोपालगंज: दो अक्टूबर से बिहार में नया शराब बंदी कानून लागु किया जायेगा जो संसोधन कर लागु किया जा रहा है .इस कानून के तहत शराब पीने वाले ,बेचने वाले और तस्करी करने वाले बच नहीं पाएंगे ,पकडे जाने पर जमानत तक नहीं होगी और कठोर सजा दी जायेगी . ये बाते शहर के आंबेडकर भवन में जीविका स्वयं सहायता समूह के दीदियो को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कही .मुख्यमंत्री ने दीदियो से कहा की चुनाव से पहले आप महिलाओ के आग्रह पर ही शराब बंदी कानून लागु किया गया ताकि गरीब परिवार शराब पीकर बिखरे नहीं इस लिए आपलोगों की विशेष जिम्मेवारी है की इन शराब पीनेवाले की डटकर मुकाबला करे बिहार सरकार सहित पूरा सिस्टम आपके साथ है .जीविका के दीदियो से मुख्यमंत्री ने आग्रह किया कि शराब के कारोबार और शराब पीनेवाले के खिलाफ निरंतर अभियान चलाकर शराब बंदी को सफल बनाये .मुख्यमंत्री ने कहा की मनुष्य की आदत छूटने में समय लगाता है इसलिए घबराने की की बात नहीं है बस आप लोग सचेत रहे है शराबियो का डटकर मुकाबला करे .मुख्यमंत्री ने शराब बंदी कानून की चर्चा करते हुए कहा कि किसी भी कानून को लागु करने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है इसके लिए घबराने की जरुरत नहीं है .शराब बंदी को लेकर मेरा लोग मजाक उड़ाते है लेकिन मै इस काम  में निरंतर लगा हुआ हूँ  .मुख्यमंत्री ने कहा की  विवेकानंद कहते थे की कोई भी नया कम करने पड़ पहले लोग मजाक उड़ाते है ,फिर विरोध करते है और बाद में उस काम के पीछे आकार कदम से कदम मिलकर चलते है .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!