शहाबुद्दीन अपनी पत्नी को इलेक्शन लड़वा कर जिता देंगे तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा – ओमप्रकाश यादव

सिवान के पूर्व सांसद बाहुबली मो. शहाबुद्दीन को सिवान के भाजपा सांसद ओमप्रकाश यादव ने चुनौती दी है. उन्होंने कहा है कि अगर शहाबुद्दीन सिवान से अपनी पत्नी हिना शहाब को इलेक्शन लड़वा कर जिता देंगे तो वे राजनीति छोड़ देंगे. आेमप्रकाश ने राजद मुखिया लालू प्रसाद और शहाबुद्दीन पर कथन कहा कि ‘चोर-चोर मौसेरा भाई’ हैं. सांसद ने यहां तक कह दिया कि लालू प्रसाद और मो. शहाबुद्दीन, दोनों सजायाफ्ता हैं.

अपनी जिंदगी में दोनों हीं चुनाव नहीं लड़ सकते. दोनों की जोड़ी तो जग-जग को मालूम है. वे ‘चोर-चोर मौसेरे भाई’ हैं. शहाबुद्दीन पर भड़ास निकालते हुए सांसद ने कहा कि शहाबुद्दीन अपराधी आदत वाले हैं तथा उनपर सिवान के अपराधीकरण का आरोप लगाया. आगे कहा कि लोग सब जानते है. ओमप्रकाश यादव ने बताया किजबा लालू-नीतीश की सरकार बनी थी, शहाबुद्दीन का जेल से बाहर आना उसी दिन निश्चित हो गया था. कोर्ट के निर्देशों की अवहेलना जानबूझकर सरकार ने की जिसके चलते शहाबुद्दीन की रिहाई का रास्ता साफ हुआ. सांसद ने कहा कि वे चुप नहीं रहेंगे.

वे तेजाब हत्याकांड में अपने बेटों को खोने वाले चंदा बाबू को सुप्रीम कोर्ट लेके जायेंगे. कहा कि वे अब ज्यादा दिनों तक बाहर नहीं रह सकेंगे उनका अपराध बहुत बड़ा है कोर्ट उन्हें नहीं छोड़ेगी. ओमप्रकाश का कहना है कि राज्य सरकार ने खुद शहाबुद्दीन की रिहाई का रास्ता खोला है तो दूसरी तरफ सभी मामलों के डिस्पोजल होने पर भी विधायक अनंत सिंह को सीसीए लगाकर जेल में रखा गया है. सरकार ने यह दोहरी नीति बनाई है. महागठबंधन की सरकार अपराधियों की संरक्षक बनी हुई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!