छपरा में रेप पीडिता को नहीं मिल रहा इंसाफ

छपरा में लड़की के साथ दुष्कर्म का प्रयास और घर में बन्द कर पिटाई करने बाद पुलिस से पीडिता की शिकायत के वाबजूद भी आरोपी खुलेआम घूम रहे है। केस नहीं उठाने पर तेजाब से जलाने और जान से मारने की धमकी देने वाले आरोपी पूर्व मुखिया की दबंगई से लड़की के साथ उसके परिजन दहशत में है और डर के कारण पिता गाँव नहीं आ रहे है।

छपरा महिला हेल्प लाइन में अपनी सुरक्षा की गुहार लगाने आयी ये पीड़ित महिला सारण जिले के गरखा थाना क्षेत्र के मैकी गावं की रहने वाली है। इसके माता पिता दिल्ली में रहते है और वही काम करते है। पीड़त लड़की अपनी दीदी के साथ गांव पर ही रहती है। इसके ऊपर गांव के ही पूर्व मुखिया राजू सिंह की नियत ख़राब हो गयी। पीड़िता के मुताबिक पूर्व मुखिया राजू सिंह लगातार इसको परेशान करते हुए इसके साथ छेड़खानी करना और जबरदस्ती सम्बन्ध बनाने का दबाव देने लगा। जिसको लेकर पीड़िता ने गांव के बड़े बुजुर्गो से शिकायत की तब पंचायत में पूर्व मुखिया ने माफ़ी मांग कर आगे से परेशान नहीं करने की बात कही। 25 जून को अकेली युवती के घर में घुसकर बलात्कार करने का प्रयास किया लेकिन रिया ने जबरदस्त प्रतिरोध करते हुए शोर मचाया। पीड़िता ने इस मामले की शिकायत गरखा थाने में दर्ज कराया। बावजूद इसके पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया और खुलेआम घूमते रहे। पीड़िता को केस उठाने और सलाह कर लेने की धमकी भी आरोपी देते रहे।

एक बार फिर 29 जुलाई 2016 को सारी हदो को पार करते हुए जब पीड़ित महिला बाजार से घर लौट रही थी तो उसको रोककर केस वापस लेने की बात दबंगों ने कही और जब पीड़िता ने मना कर दिया तो जबरदस्ती अपने घर में ले जाकर लाठी डंडे से पिटाई करने के साथ इसके कपडे फाड़ दिए। लेकिन इसके पहले की इसके साथ कुछ अनर्थ होता इसकी भांजी ने इसकी सुचना पुलिस को दे दी तब पुलिस ने आकर लड़की को उन दरिंदो से मुक्त करा मेडिकल कराया और फिर पीड़ित ने एक और मामला दर्ज कराया। ताज्जुब इस बात का है कि मामले को बीते हुए 12 दिन से ज्यादा हो गए लेकिन पुलिस इस मामले में आरोपियों को अब तक गिरफ्तार नहीं कर पाई है। आरोपी अब पीड़ित युवती को जान से मारने की धमकी और तेजाब से जलाने की धमकी दे रहे हैं। जब पुलिस ने कार्यवाई नहीं की तो पीड़ित परिवार ने महिला हेल्प लाइन का दरवाजा खटखटाया। पीड़ित महिला ने मीडियाकर्मियों के सामने रो-रोकर अपनी आपबीती सुनाई। महिला हेल्प लाइन की प्रभारी शशिकला ने कहा की इस मामले को ले वे वरीय अधिकारियो से बात करेंगी। पीड़ित की माँ भी काफी सहमी हुई है और उन्हें ये डर सता रहा है की पता नहीं उनकी बेटी के साथ क्या होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!