बेकारी और बेरोजगारी का उदाहरण है कांवड़िये – शरद यादव

सावन के महीने में देश सहित बिहार-झारखंड में भोलेनाथ के भक्त देशभर में कांवड़ यात्रा कर रहे हैं। लेकिन बिहार की वर्तमान में सत्ताधारी पार्टी जनता दल यूनाइटेड के प्रमुख नेता और राज्यसभा सांसद शरद यादव ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा है कांवड़ियों को लेकर विवादित बयान दिया है। शरद यादव ने कहा कि जो बेरोजगार होते हैं वही कांवड़ यात्रा करते हैं। उन्होंने सावन के त्यौहार के प्रति अनभिज्ञता दिखाते हुए कहा की, ये जो कोई त्यौहार होता है जिसमें कांवरिये बड़े पैमाने पर निकलते है.. जिस पर पत्रकारों ने उन्हें बताया की सावन वाला त्यौहार। आगे उन्होंने कहा की सावन के त्यौहार में पानी डालने वाले जो है सबसे बड़ा नज़ारा बेकारी और बेरोजगारी का वहां देख सकते है। कांवड़िए बेरोजगारी का सर्वश्रेष्ठ उदाहरण हैं। शरद यादव ने कहा कि देश में कितनी बेरोजगारी है इसका अंदाजा कांवड़ियों की संख्या से लगाया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!