प्यार का झांसा दे कर प्रेमी अपने प्रेमिका से कराया जा रहा था जिस्म का धंधा

सभी प्रेम कहानी अच्छे अंजाम तक नहीं पहुँचती और घर से भगा कर ले जानें वाले लड़के कोई जरुरी नहीं आपको जिन्दगी भर के साथी बनाने के लिए ले जा रहे हैं. लेकिन इसका पता तब चलता हैं जब आप देह ब्यापार के धंधे में फंस चुके होते हैं. एक ऐसी ही प्रेम कहानी और जिस्म के बड़े धंधे का पर्दाफांस पुलिस ने किया हैं. पहले प्रेमी ने ही उसका अपहरण कराया और एक कमरे में कैद कर 10 महीने तक दुष्कर्म करता रहा. लड़की ने किसी तरह उसके चंगुल से भागकर पुलिस को अपनी दास्तान सुनाई.

खुलासा तब हुआ जब पटना जंक्शन पर गुरुवार की देर रात जक्कनपुर थानाध्यक्ष एके झा को एक लड़की बिहोसी की हालत में मिली. जब पुलिस ने शक होने पर पूछताछ की तो लड़की ने अपनी आपबीती सुनाया. उसने कहा कि पिछले वर्ष दशहरा के दिन अपने प्रेमी के साथ भागने के लिए दानापुर रेलवे स्टेशन भागी थी लेकिन प्रेमी नहीं आया, पर वहां प्रियंका नाम की महिला मिली जिसने उसे खाना खिलाया उसके बाद वह बेहोश हो गई.

जब होश आया तो खुद को एक बंद कमरे में पाया. यहां उसका प्रेमी पप्पू मौजूद था. उसे कब्जे में रख दस महीनों तक दुष्कर्म करता रहा. उसने बताया कि उसके सामने कई लड़कियों को बेचा गया, उसे बेचने की तैयारी चल रही थी. वह किसी तरह भाग निकली. लड़की के बताने पर पुलिस ने मनोज सिंह के घर धावा बोला. दूसरी मंजिल के एक कमरे में 15 और 13 साल की दो लड़कियां कैद थीं।. जिन और दो को अगवा किया गया उनमें एक कटिहार, दूसरी पंडारक की हैं. दोनों घर से नाराज होकर स्टेशन चली गई थी, जहां अनुज नाम के दलाल के झांसे में आईं. एसएसपी एसएसपी मनु महाराज के बताया कि बड़े पैमाने पर लड़कियों की खरीद-फरोख्त करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ हुआ है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!