कॉमेडी, एक्शन, किडनैप और ‘ढिशूम-ढिशूम’

फिल्म : ढिशूम
निर्माता : साजिद नाडियाडवाला
निर्देशक : रोहित धवन
संगीत : प्रीतम और अभिजीत वाधानी
कलाकार : वरुण धवन, जॉन अब्राहम, जैकलीन फर्नाडिस, अक्षय खन्ना, साकिब सलीम

जॉन अब्राहम और अक्षय कुमार की ‘देसी ब्वॉयज’ के बाद बतौर डायरेक्टर और राइटर रोहित धवन की दूसरी फिल्म है ‘ढिशूम’। इस फिल्म के जरिए अक्षय खन्ना करीब चार साल बाद बडी स्क्रीन पर वापसी कर रहे है। अक्षय कुमार का कैमियों भी लोगों के बीच सुर्खियों बटोर रहा है। इस फिल्म में जॉन अब्राहम, वरुण धवन, जैकलीन फर्नाडिस, अक्षय खन्ना और साकिब सलीम मुख्य भूमिका में है। जहां तक ढिशूम का सवाल है, इस फिल्म में रोहित धवन ने एक्शन का धमाकेदार तडका लगाने की पूरी कोशिश की है जो उन्हें भरोसा है कि यह ऑडियंस को जरूर पसंद आएंगी।

कहानी :- 
फिल्म की कहानी एक स्टेडियम से शुरू आती है। भारतीय टॉप बैट्समैन विराज (साकिब सलीम) पाकिस्तान के फाइन मैच से पहले किडनैप होते है। फिर एक सिरफिरे का वीडियो सामने आता है, जिसमें वह फाइनल मैच रद्द न करने की धमकी देता है और भारत सरकार को चेतावनी देता है कि यदि भारत-पाकिस्तान का फाइनल मुकाबला कैंसिल हुआ तो वह विराज को जान से मार देगा। अब भारत सराकर विराज को ढूंढने के लिए टास्क फोर्स के होनहार ऑफिसर कबीर (जॉन अब्राहम) को साऊदी भेजती है।
कबीर अपनी स्टाइल से अपने केस को हैंडल करन चाहता है लेकिन वहां का कानून अलग होता है। इसके लिए वह वहां की पुसि में नया जॉइन हुआ जुनैद (वरुण धवन) को साथ लेता है। अब विराज को ढूंढने के लिए इनके पास मात्र 36 घंटे ही होते है। फिर सैम (अक्षय कुमार) की सहायता से करीब और जुनैद एक जगह पहुंचते है वहां उन्हें मोबाइल चोर इशिका (जैकलीन फर्नाडिस) मिलती है और दोनो इशिका की मदद लेते है। आखिर विराज की किडनैपिंग के पीछे किसका हाथ और क्या मकसद है? इन सवालों के जवाब जानने के लिए आपको सिनेमाघरों का रुख करना होगा।

निर्देशन :- रोहित धवन ने पूरी कोशिश की है कि फिल्म में कोई भी कमी न रहे। शूटिंग के लोकेशंस और फाइट सिक्वेंस भी काफी उम्दा हैं। बस कहानी को थोड़ा और दिलचस्प बनाया जा सकता था। इंटरवल तक आते आते ऑडिएस थोडी बोर होती दिखाई दी। सैकंड हॉफ में भी फिल्म में भी फिल्म कहानी पटरी से उतरती नजर दिखी।

एक्ट्रिंग :- वरुण धवन और जॉन अब्राहम का काम, किरदार के अनुसार ठीक रहा है। वहीं, जैकलीन फर्नांडिस ने भी औसत काम किया है। बाकी सह कलाकारों का काम भी अच्छा है। अक्षय कुमार का कैमियो भी फिल्म में एक छोटी ट्रीट है। जिससे आपके चेहरे पर मुस्कान जरूर आती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!