बिहार सरकार मोबाइल पर सुनेगी जनता की शिकायत

बिहार में काम ना करने वाले अधिकारियों की अब खैर नहीं है. क्योंकि बिहार सरकार ऐसे अधिकारियों पर नकेल कसने के लिए एक ऐसा ऐप लाने जा रही है जिसके जरिए अब लोग ऑनलाइन शिकायत दर्ज करा पाएंगे. इस ऐप के जरिए लोगों को सरकारी अधिकारियों और दफ्तरों के खिलाफ अब ऑनलाइन शिकायत दर्ज कराने का अधिकार मिलेगा.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सुशासन बाबू के नाम से जाना जाता है. 15 साल तक जंगलराज काटने के बाद जब नीतीश बिहार की सत्ता पर काबीज हुए तो सबसे पहले उन्होने बिहार के प्रशासनिक अधिकारियों को सुधारने की कोशिश की, नीतीश कुमार द्वारा लगाया जाने वाला जनता दरबार इसी का नतीजा था. इस बार जब नीतीश कुमार ने बिहार में फिर से सत्ता संभाली तो नाकारा अधिकारियों पर नकेल कसने के लिए नई पहल शुरु की है. ऐसे अधिकारियों से जनता को राहत दिलाने के लिए अब सरकार एक ऐसा मोबाइल ऐप लाने जा रही है जिसके जरिए लोग अधिकारियों की शिकायत फोन पर ही कर सकेंगे.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य में लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम की विधिवत शुरुआत की थी. इसके तहत लोगों को सरकारी अधिकारियों और दफ्तरों के खिलाफ शिकायत करने का अधिकार मिला. इसके लिए हर जिले में एक शिकायत प्राप्ति केंद्र खोला गया है जबकि एक राज्य स्तरीय केंद्र पटना में शुरू किया गया है. इसके अलावा, राज्य सरकार ऑनलाइन भी शिकायत ले रही है. अब तक इस अधिनियम के तहत राज्य सरकार के पास करीब 18,000 शिकायतें मिल चुकी हैं. दिलचस्प बात यह है कि इनमें से सबसे ज्यादा शिकायतें राज्य सरकार को ऑनलाइन मिली हैं. राज्य सरकार को अब तक करीब 1,700 शिकायतें ऑनलाइन मिल चुकी हैं.

One thought on “बिहार सरकार मोबाइल पर सुनेगी जनता की शिकायत

  • August 23, 2017 at 2:27 pm
    Permalink

    आज मै भोरे अंचल पर तिसरे दिन पहूचा निवास परमाड पत्र्त बनवाने दो दिन वापस आजानेके बाद दो बजे सूबह वहा पचास से अधीक लोग हाजीरथे ।हर रोज की तरह काउन्टर । 11 बजे चालू हूवा । लोगो की भिड इतनी बढगई की लोगो को खडाहोना मूसकील होनेलगा । काउनटर न: 2 की करमचारी दोलोगो का फर्म जमा करके साइडसे पैसा लेकर फर्म लेनेलगा मैबोला की हमलोग खाना खाए बगैर लाइन मे लगे हूवे है करमचारी कहने लगा वापसजानाहै क्या जो करताहू करनेदो । कूछ लोग पान्च दिन छे दिन लाइनमे लग कर वापस चले जाते है कूछ लोग रातमे वही सोजाते है सूबह लाइनमे लगनेके लिए ऐसा करनेकेबादभी 60 _ 70 लोग फर्म जमा करपाते है। येहै भोरे बलाक का हाल

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!