बिहार में 21 लाख बीपीएल परिवारों की महिलाओं को एलपीजी कनेक्शन दिया जाएगा

लोगों को विकास की मुख्य धारा से जोड़ने और माताओं को धुंए वाली चूल्हे से मुक्ति दिलाने के लिए केंद्र की भारतीय जानता पार्टी की सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एक उज्जवला योजना की शुरुआत की है. जिसके तहत देश की जो भी माता या बहन लड़की या कोयले के चूल्हों पर खाना पकाती है. अब उन्हें इस बीमारी फ़ैलाने वाली धुओं के चूल्हों से आजादी मिल जाएगी. सबसे बड़ी बात यह है कि यह बेहतर योजना को बिहार में भी इस माह के 27 जून को लागु कर दिया जाएगा.

इस प्रधानमंत्री उज्जवला योजना की शुरुआत देश के केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के हाथ से पटना के श्री कृष्ण मेमोरियल हॉल में किया जाएगा. इस उज्जवला योजना के लॉन्च होने के बाद राज्य के 21 लाख बीपीएल परिवारों की महिलाओं को एलपीजी कनेक्शन दिया जाएगा. जिसके बाद से बीपीएल परिवारों की माताएं और बहनें भी बिना किसी परेशानी के खाना बना सकेंगी. बताया जा रहा था कि लकड़ियों की चूल्हों का इस्तमाल के करने के कारण देश की लाखों महिलाओं के फेफड़ो में संक्रमण और साँस की बीमारी हो गई थी. साथ पुरे देश में प्रदुषण का स्तर भी बढ़ता जा रहा था. जिसे देखते हुए केंद्र सरकार के द्वारा इस अदभुत प्रधानमंत्री उज्जवला योजना का निर्माण किया गया है. जिसका लाभ प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से पुरे देश के नागरिकों को मिलने वाला है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!