बीफ खाने के आरोप में मार डाले गए अखलाक के गांव में फिर तनाव

दादरी कांड में अखलाक की हत्या का आरोपी पक्ष और प्रशासन आमने-सामने हैं। आरोपी पक्ष और उसके समर्थकों ने सोमवार को बिसाहड़ा में पंचायत करने की घोषणा की है। हालांकि एसडीएम दादरी राजेश कुमार सिंह ने बताया कि बिसाहड़ा गांव में सोमवार को किसी भी पंचायत की अनुमति नहीं दी गई है। गांव वालों ने मंदिर पर बैठक करने की सूचना दी थी। प्रशासन ने ऐहतियात बरतते हुए इलाके में धारा 144 लगा दी है।

अखलाक मर्डर केस में जेल में बंद एक आरोपी के पिता संजय राणा ने बताया कि आज की पंचायत के दौरान एक महापंचायत की घोषणा की जाएगी। संजय राणा ने दावा किया कि महापंचायत का नेतृत्व गृहमंत्री राजनाथ सिंह के बेटे पंकज सिंह करेंगे। आज होने वाली बैठक को राष्ट्रवादी प्रताप सेना भी सपोर्ट कर रही है। रविवार को राष्ट्रवादी प्रताप सेना के कार्यकर्ताओं ने अखलाक के घर वाली गली के सामने नुक्कड़ सभा की थी।

रविवार को एक आरोपी के पिता संजय राणा सहित 8 लोगों ने सूरजपुर स्थित पुलिस ऑफिस में एसएसपी धर्मेंद्र सिंह से मुलाकात कर तहरीर दी। संजय ने बताया कि जारचा पुलिस को भी तहरीर दी जा चुकी है। एसएसपी ने कहा कि जांच के बाद ही रिपोर्ट दर्ज की जाएगी। जांच में देखा जाएगा कि मांस  कहां से आया, किसने काटा, उसे स्टोर किया गया था या उसे बेचने के लिए रखा गया था। संजय का कहना है कि पुलिस से इंसाफ की उम्मीदें खत्म होती जा रही हैं। इसलिए बुधवार को डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में याचिका दायर करके रिपोर्ट दर्ज कराने की मांग की जाएगी।

डीजीपी जावेद अहमद ने रविवार को दिल्ली में मेरठ रेंज के सभी जिलों के एसएसपी के साथ मीटिंग की है। डीजीपी ने पुलिस कप्तानों से कहा है कि किसी स्थिति में दादरी या मथुरा जैसी स्थिति उत्पन्न नहीं होनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!