अमर सिंह को मुलायम सिंह यादव भेजेंगे राज्यसभा

समाजवादियों के बीच मुलायमवाद की नई परिभाषा गढ़ने वाले पार्टी से निष्कासित नेता अमर सिंह को मुलायम सिंह यादव राज्यसभा भेजेंगे। समाजवादी पार्टी की मंगलवार (17 मई) को हुई संसदीय बोर्ड की बैठक में अमर सिंह के नाम पर सहमति व्यक्त कर दी गई। उनके अलावा हाल ही में कांग्रेसी से पुन: समाजवादी बने बेनी प्रसाद वर्मा को भी राज्यसभा भेजने पर सहमति जताई गई है। सपा ने मंगलवार (17 मई) को राज्यसभा के सात और विधान परिषद के आठ नामों का एलान कर दिया है।

समाजवादी पार्टी से छह बरस का निष्कासन झेल रहे अमर सिंह को राज्यसभा भेजने का एलान पार्टी के वरिष्ठ नेता शिवपाल सिंह यादव ने किया। उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनान के ऐन पहले अमर सिंह की सपा में हुई वापसी, मुलायम सिंह यादव पर आजम खां और राम गोपाल यादव की ढीली होती पकड़ का संकेत माना जा रहा है। अमर सिंह के अलावा समाजवादी पार्टी उन बेनी प्रसाद वर्मा को राज्यसभा भेजने पर सहमत हुई है जिन्होंने कांग्रेस में रहते हुए नेताजी पर अमर्यादित वक्तव्य देने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी। राज्यसभा भेजे जाने वालों में उन बिल्डर संजय सेठ का भी नाम है जिन्हें नामित विधानपरिषद सदस्य बनाने से राज्यपाल ने साफ इनकार कर दिया था और दो बार उनके नाम लिखी सूची सरकार को वापस कर दी थी।

इन तीन नामों के अलावा सुखराम सिंह यादव, इलाहाबाद से सांसद रहे कुंवर रेवती रमण सिंह, विश्वम्भर प्रसाद निषाद और अरविंद प्रताप सिंह के नाम सपा की तरफ से घोषित की गई राज्यसभा भेजे जाने वालों की सूची में शामिल हैं। वहीं विधान परिषद के लिए सपा ने बलराम यादव, सतरुद्ध प्रकाश, जसवन्त सिंह, भुक्कल नवाब, राम सुंदर दास निषाद, जगजीवन प्रसाद, कमलेश पाठक और रणविजय सिंह को शामिल किया है।

समाजवादी पार्टी की राज्यसभा के लिए घोषित सूची में अमर सिंह का नाम आने के बाद से पार्टी का एक वर्ग सकते में है। अमर सिंह को समाजवादी पार्टी से निष्कासित किए जाने के बाद इस वर्ग ने उनके खिलाफ खासी तल्ख प्रतिक्रिया दी थी। वहीं इस बात की भी चर्चा जोरों पर है कि अमर सिंह के राज्यसभा के लिए भेजी जाने वाली सूची में चयनित होने से सपा के दो कद्दावर नेता आजम खां और प्रो. राम गोपाल यादव का सियासी रसूख कम होगा। इन दोनों ही नेताओं ने कई मर्तबा सार्वजनिक मंचों से अमर सिंह को लेकर खासी तल्ख टिप्पणी की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!