लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजप्रताप यादव ‘मुख्यमंत्री’ बने

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद के पुत्र और राज्य के स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव क्या अब मुख्यमंत्री बन गए हैं? हां, लेकिन हकीकत में नहीं, बल्कि एक भोजपुरी फिल्म में। पिछले वर्ष राजनीति में कदम रख चुके, विधानसभा चुनाव जीत चुके, सबसे कम उम्र के स्वास्थ्य मंत्री बन चुके तेजप्रताप ने सियासत के साथ-साथ अब अभिनय की दुनिया में भी कदम रख दिया है। भोजपुरी फिल्म ‘अपहरण उद्योग’ में तेजप्रताप मुख्यमंत्री का किरदार निभा रहे हैं।

तेजप्रताप ने सोमवार को इस फिल्म में अपनी भूमिका के बारे में पटना में बताया, “इस फिल्म में मैं मुख्यमंत्री की भूमिका में हूं, यह किरदार ‘पॉजिटिव’ है। रविवार को इस फिल्म की शूटिंग राजगीर में हुई थी। जल्द ही पटना में भी इस फिल्म की शूटिंग होगी।

सीएजी के बैनर तले बन रही ‘अपहरण उद्योग’ में भोजपुरी के प्रसिद्ध गायक छोटू छलिया, अभिनेता वीरेंद्र कुमार, किशन चौधरी, अभिनेत्री दीक्षा चौधरी, महिला कलाकार संगीता व पिंकी सिन्हा के अलावा अन्य कलाकार भी अभिनय कर रहे हैं।

तेजप्रताप ने रविवार को राजगीर में हुई शूटिंग में हिस्सा लिया और मुख्यमंत्री की भूमिका बखूबी निभाई। राजगीर के अंबेदकर चौक पर फिल्म की शूटिंग की गई। इस फिल्म में एक गांव से एक बालक का अपहरण हो जाता है। आक्रोशित ग्रामीण सरकार और पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हैं। शूटिंग के दौरान फिल्म के कलाकार कैमरे के सामने बिहार में अपहरण, हत्या, दुष्कर्म जैसी घटनाओं के खिलाफ नारे लिखी तख्तियां हाथों में लेकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते दिख रहे थे।

इसी बीच तेजप्रताप मुख्यमंत्री की भूमिका में कैमरे के सामने आए। उन्होंने आक्रोशित लोगों को समझाते हुए कहा, “उनके बेटे को बिहार की पुलिस जल्द बरामद कर लेगी। अब बिहार में अपराध की घटनाएं नहीं होंगी। विपक्ष साजिश के तहत बिहार को बदनाम कर रहा है। अपराधी कोई भी हो, कितना भी बड़ा हो, उसे बख्शा नहीं जाएगा।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!