Mon. Aug 26th, 2019

नीतीश ने बिहार में पंचायती राज संस्थाओं को पंगु बना दिया – सुशील मोदी

सुशील मोदी ने नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला, उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार ने तो बिहार में पंचायती राज संस्थाओं को पंगु बना दिया है. प्रदेश की साढ़े आठ हजार पंचायतों में एक-एक करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले ‘ पंचायत सरकार भवन’ का काम ठप्प है. विगत दो वर्षों से पंचायत प्रतिनिधियों को घोषित भत्ता का भुगतान नहीं हो रहा है.

उन्होंने केंद्र सरकार की तारीफ भी की और कहा विगत पांच सालों में केन्द्र की यूपीए सरकार बिहार के स्थानीय निकायों को मात्र पांच हजार करोड़ रुपये दे पाई थी जबकि नरेन्द्र मोदी सरकार ने इसमें करीब साढ़े चार गुणा की वृद्धि करते हुए 23,500 करोड़ रुपये देने का प्रावधान किया है.

प्रदेश में साढ़े आठ हजार की जगह अब तक मात्र 400 पंचायत सरकार भवन ही बन पाए हैं. अब लगता है कि राज्य सरकार ने इस योजना को ही ठप्प कर दिया है. राज्य सरकार पंचायत सरकार भवनों के निर्माण के लिए 13 वें वित आयोग द्वारा अनुशंसित एक हजार करोड़ में से 500 करोड़ नहीं ले पाई, वहीं 14 वें वित आयोग की अनुशंसा पर मिली राशि ससमय पंचायतों के खाते में ट्रांसफर नहीं करने के कारण उसे दंड के तौर पर 8 करोड़ 11 लाख रुपये का ब्याज भरना पड़ा है.

पंचायत चुनाव के पूर्व सरकार ने तय किया था कि जिनके घर में श शौचालय नहीं होगा, वे चुनाव लड़ने के योग्य नहीं होंगे मगर छह महीने में ही अपने निर्णय से पलट गई. क्या महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती पर प्रधानमंत्री के स्वच्छ व निर्मल भारत के सपने को पूरा करने के लिए यह अनिवार्य नहीं करना चाहिए कि जीतने वाले पंचायत प्रतिनिधि आगामी एक वर्ष में अपने घरों में शौचालय का निर्माण करवा लें? मुख्यमंत्री बतायें कि शेष पंचायत सरकार भवनों का निर्माण और पंचायत प्रतिनिधियों के दो वर्षों के बकाये भत्ते का भुगतान कब तक होगा?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!