पटना दवा व्यवसाई के हत्यारें को पुलिस ने धर दबोचा !

सूबे की सबसे बड़ी दवा मंडी राजधानी स्थित गोविन्द मित्र रोड में सोमवार को तक़रीबन 9 बजकर 20 मिनट पर दवा व्यवसाई अनिल अग्रवाल की तीन की सख्या में रहे युवको द्वारा हत्या कर दी गई। मामले के संज्ञान में आते ही वरीय पुलिस अधीक्षक मनु महराज के नेतृत्व में सिटी एसपी (मध्य) चन्दन कुशवाहा और एसआईटी की टीम ने महज 3 दिन में किया लगभग ब्लाइंड केस का उद्भेदन कर दिया है।

सनद रहे कि हक़ीक़त ये है कि तीन नहीं “पांच” लड़के शामिल थे हत्याकांड में। वीडियो क्लिप के आधार पर 48 घंटे तक जांच करने के बाद पटना पुलिस ने वीडियो को मीडिया में जारी किया है।वीडियो फुटेज के अनुसार मारनेवालों में तीन नयी उम्र के लड़के हैं। इसमें एक लड़का आसमानी शर्ट पहने हुए है, जिसके हाथ में बैग है। संभवत: वह बैग में पिस्टल रखा था। फॉयरिंग का खौफ़ देखिये ,गोली चलने के बाद वो कुत्ता भी सड़क की तरफ भाग गया जिसे अनिल ने कुछ क्षण पहले बिस्कुट खिलाया था।

ताबड़तोड़ 4 राउंड फॉयरिंग के बाद तीनों हत्यारें सड़क पर आते हैं। गेट पर कुछ क्षण के लिए ठहरते है पलट कर देखते हैं कि अनिल की मौत हो गयी या नहीं। फिर इसके बाद भाग जाते हैं। आगे जाते है दो युवक काले रंग की दो बाइक लेकर खड़े होते है। एक बाइक पर 3 और दूसरे पर 2 लड़के सवार होते है। फिर शहर की भीड़ में शामिल हो जाते है। मतलब साफ़ कुल 5 लड़के शामिल थे।

इसके अलावे भी वीडियो एक सड़क से गुजरात युवक सड़क पर भागते हुए दिखता है। जबकि रास्ते से गुुजर रही महिला, गोली चलते देखती है। वह वापस जाने लगती है। लेकिन, हमलावारों के भागने के बाद दोबारा घटना स्थल की तरफ देखती है।

दवा व्यवसायी अनिल अग्रवाल की हत्या के मामले में पुलिस अनुसंधान का सीन लगातार बदलता रहा। पुलिस को सबसे बड़ी मुश्किल कातिलों की पहचान को लेकर हो रही है। वीडियो क्लिप के आधार पर 48 घंटे तक जांच करने के बाद पुलिस ने वीडियो को मीडिया में जारी किया है। संदिग्धों से मिलते-जुलते चेहरेवाले अब तक 25 लोग हिरासत में लिये गये हैं। लेकिन, पहचान नहीं हो सकी है।लेकिन एसआईटी की टीम को इस दौरान अकाट्य साबुत हासिल हो चुके थे।

पुलिस को बड़ी सफलता भी मिलने की खबर आ रही है। कुल 5 अपराधियों में 4 अपराधी स्थानीय है। इस बात पुष्टि हो चुकी है। पुलिस सूत्रो का दावा है कि लोहानीपुर, सब्जीबाज और पटना सिटी इलाके से ताल्लुक रखने वाले ये नए उम्र के लड़के है। वही हत्यारा लड़का शहर के बाहर का बताया जा रहा है। साथ ही एसआईटी और पटना पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लग चुकी है। दवा व्यवसाई के हत्या में शामिल अपराधी को गिरफ्तार कर लिया गया है साथ ही मामले का किया खुलासा भी हो चूका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!