पुट्टींगल मंदिर हादसे में 102 की मौत, घायलों से मिले पीएम

वर्त्तमान में देश के सबसे त्रासद घटना करम का गवाह बना केरल के कोल्लम जिले में पुट्टींगल मंदिर में आतिशबाजी से रविवार तड़के करीब 3:30 बजे भयंकर अाग लग गई। केरल के डीजीपी के मुताबिक अाग से 102 लोगों की मौत हो गई जबकि 350 लोग घायल बताए जा रहे हैं। मंदिर हादसे के सिलसिले में केरल के सीएम ने एक आपात बैठक भी बुलाई जिसके बाद हादसे की न्यायिक जांच के आदेश दे दिए गए। पीएम कोल्लम में हादसे की जगह पर पहुंचे इसके बाद उन्होंने घायलों का हालचाल भी जाना। उनके साथ केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा, राज्य के सीएम भी साथ थे। पीएम के बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी कोल्लम पहुंचे हैं।

पीएम ने ट्वीट कर सपष्ट कहा है कि उनके केरल आगमन पर किसी तरह की औपचारिकता की कोई जरूरत नहीं है बल्कि प्रशासन का पूरा ध्यान इस वक्त हादसे में घायल हुए लोगों के उपचार पर लगाना चाहिए। इस हादसे पर उन्होंने राज्य के सीएम ओमान चांडी से फोन पर बात की और घायलों को हेलीकॉप्टर से तुरंत दूसरी जगह शिफ्ट करने को कहा है। अपने संदेश में उन्होंने इस हादसे को बेहद दुखद बताया और सभी से घायलों के लिए तुरंत स्वस्थ होने की कामना करने की भी अपील की है। पीएम के साथ कोल्लम जाने वालों में विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम भी है जिनमें एम्स, सफदरजंग और आरएमएल के डॉक्टर शामिल हैं।

चांडी ने पीएम के आगमन पर खुशी का इजहार करते हुए कहा है कि मंदिर हादसे में घायलों का इलाज करने के लिए उनके यहां पर पर्याप्त रूप से सुविधाएं उपलब्ध हैं। उनका कहना है कि हादसे में घायल लोगों को बेहतर मेडिकल सुविधा मुहैया करवाई जाएगी। केंद्र सरकार ने भी मदद का आश्वासन दिया है।सीएम ने कहा कि हादसे के बाद बुलाई गई कैबिनेट की आपात बैठक में इस हादसे की जांच के आदेश दे दिए हैं। इससे पहले मंदिर प्रशासन के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। इसके अलावा उन्होंने मृतकाें के परिजनों को दस लाख और गंभीर रूप से घायल हुए लोगों को दो लाख का मुआवजा देने की घोषणा की है।

एनडीआरएफ के डीजी ने हादसे वाली जगह पर जरूरत पड़ने पर अधिक राहतकर्मियों को भेजने की बात कही है। वहीं दूसरी ओर रक्षा मंत्रालय की ओर से भी इंडियन नेवी, एयरफोर्स और कोस्ट गार्ड को भी बचाव कार्य के लिए आदेश दिए गए हैं। इसके बाद से तीनों सेनाओं की टीमें एक्शन में आ गई हैं। एयर फोर्स और नेवी के हेलीकॉप्टर्स डेप्लॉयड रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता की ओर से दिए गए बयान में कहा गया है कि इंडियन नेवी और इंडियन एयरफोर्स ने छह हेलीकॉप्टर्स को तैनात किया है। एयरफोर्स की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक दो एएन-32 जेट आराकोरन से एनडीआरएफ जवानों को लेकर रवाना हुए हैं। इस काम में आईएएफ के चार हेलीकॉप्टर, भारतीय नौसेना का एक डॉर्नियर और दो अल्ट्रा लाइट हेलीकॉप्टर को मेडिकल टीमों के साथ तैनात किया गया है। कोस्ट गार्ड का एक जहाज भी राहतकार्य का सामान लेकर कोल्लम पहुंच गया है। इसके अलावा आईएनएस काबरा और कालपेनी भी मेडिकल का सामान लेकर कोल्लम पहुंच रहा है।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पीड़ितों का हालचाल लेने के लिए त्रिवेंद्रम मेडिकल कॉलेज पहुंचे। अस्पताल का दौरा करने के बाद उन्होंने कहा कि पीड़ितों की तीमारदारी पहली प्राथमिकता होनी चाहिए। केंद्र राज्य सरकार के लगातार संपर्क में है। पीएम ने हादसे में मारे गए लोगों के परिवार के प्रति संवेदना जताई है। उन्होंने कहा कि दुख की घड़ी में वो पीड़ित परिवारों के साथ हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!