मणिपुर एनआईटी में पढ़ रहे बिहार यूपी के छात्र तीन दिनों से है उपद्रवियों के निशाने पर

मणिपुर की राजधानी इंफाल स्थित एनआईटी में पढ़ रहे बिहारी छात्रों को स्थानीय लोगों द्वारा निशाना बनाया जा रहा है। पिछले तीन दिनों से उनके साथ कॉलेज के बाहर के लोग मारपीट कर रहे हैं। डर के मारे सभी छात्र अपने हॉस्टल के कमरे में दुबके हुए हैं। पटना जिले के नदौल गांव के छात्र अभिषेक कुमार ने इंफाल से अपने मोबाइल पर हुई बातचीत में बताया कि शुक्रवार की शाम कॉलेज कैंपस में एनुअल फेस्टिवल ‘ओवरी’ का आयोजन चल रहा था।

इसी दौरान बड़ी संख्या में बाहरी लोग कैंपस में घुस आए। उनलोगों ने बैरिकेडिंग तोड़ दी और बिहार तथा यूपी के छात्रों को चुन-चुन कर मारने लगे। उन्हें भी काफी चोटें आई। खगड़िया जिले के नीतीश को उपद्रवियों ने जमकर पीटा। यूपी के अभिषेक त्रिपाठी तो बेहोश हो गए। अभिषेक ने बताया कि रात में किसी तरह वे लोग अभिषेक को लेकर रिजनल इंस्टीच्यूट ऑफ मेडिकल सायंस गए। शनिवार को उसे अस्पताल से छुट्टी मिली है।

अधिकतर छात्रों के मोबाइल भी छीन लिए गए हैं। एनआईटी में तैनात स्थानीय पुलिस ने उपद्रवियों को भगाने की कोई कोशिश नहीं की। उल्टे वे लोग हंस रहे थे। कॉलेज में फिलहाल यूपी और बिहार के करीब 50 छात्र हैं। अभिषेक ने दूरभाष पर बताया कि कॉलेज प्रशासन के लोग बिहारी छात्रों को सुरक्षा नहीं दे रहे। सिविल इंजीनियरिंग के असिस्टेंट हेड मिस्टर रोमियो ने तो उल्टे कहा कि बाहर में पढ़ते हो तो थोड़ा बहुत यह सब झेलना पड़ेगा।

कॉलेज में शनिवार और रविवार को भी फेस्ट चला। लेकिन वे लोग अपने कमरे में ही दुबके रहने को मजबूर हैं।अभिषेक ने गुहार लगाई कि कॉलेज में सीआरपीएफ को किसी तरह भेजा जाय। बगैर सीआरपीएफ की सुरक्षा के बिहारी छात्रों का कॉलेज से बाहर निकलना और अपने घर जाना नामुमकिन है। इस बारे में कॉलेज के रजिस्ट्रार आरके ललित और सहायक रजिस्ट्रार देवेन्द्रो से संपर्क करने की कोशिश की गई, लेकिन बात नहीं हो सकी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!