थाने पर हमला कर पुलिसकर्मी को उठा ले गए अपने गाँव, फिर बेरहमी से पीटा

सूबे में सुशासन का प्रताप बड़ी तेज़ी से उतरता दिख रहा है। आम जनता की बात कौन करे अब तो पुलिस कर्मी को भी थाने में घुस कर उठा लिया जा रहा है।हालात का अंदाज़ा इससे लगाया जा सकता है कि पुलिस जवान द्वारा शराब पीकर हंगामा करने से मना करने पर पहले तो सरे आम उसके साथ गाली गलौज और मार पीट की गई, फिर थाने से छूटने के बाद अपराधियों ने जीआरपी कार्यालय पर हमला कर तोडफ़ोड़ की। इसके बाद एक पुलिसकर्मी कन्हैया कुमार को उठा लिया तथा घसीटते व लात-जूतों से पीटते हुए उसे अपने गांव ले गए। वहां बंधक बनाकर उसकी बेरहमी से पिटाई की तथा पानी मांगने पर शराब पिलाई। भारी संख्या में पहुंची पुलिस ने डेढ़ घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद पुलिसकर्मी को मुक्त कराया। इलाज के लिए उसे मुजफ्फरपुर के एसकेएमसीएच भेजा गया है।

मिली जानकारी के अनुसार गुरुवार की रात मेहसौल पूर्वी पंचायत का मुखिया के पति सह पंचायत समिति सदस्य आरिफ मुखिया अपने समर्थकों के साथ सीतामढ़ी स्टेशन परिसर में शराब पीकर हंगामा कर रहा था। मौके पर साथी जवानों के साथ पहुंचे कन्हैया के साथ उसने गाली-गलौज व हाथापाई की। आरिफ और उसके समर्थक को हिरासत में लेकर कन्हैया रेल थाने पहुंचा तथा हाजत में बंद कर दिया गया।
लेकिन जल्द ही जीआरपी थानाध्यक्ष राज कुमार राय ने आरिफ और उसके समर्थक को मुक्त कर दिया। फिर क्या था बढे मनोबल और अपनी पहुच का मुज़ाहिरा करने शुक्रवार की सुबह करीब डेढ़ सौ समर्थकों के साथ आरिफ स्टेशन पहुंचा। कंबल ओढ़ कर रेल थाने में घुस आरिफ ने कन्हैया को दबोच लिया। थाने में तोडफ़ोड़ करने के बाद वह कन्हैया को थाने से बाहर घसीटते हुए लाया गया। जहा बाहर उसके समर्थकों ने कन्हैया को बेरहमी से पीटा।

घटना की जानकरई मिलते हि महकमे में हड़कंप मच गया। उसे मुक्त कराने डीएसपी (सदर) राजीव रंजन के नेतृत्व में पहुंची आधा दर्जन थानों की पुलिस व क्यूआरटी की टीम को भी आक्रोश झेलना पड़ा। सीतामढ़ी पहुंचे वरीय रेल एसपी मुजफ्फरपुर बीएन झा ने जीआरपी थानाध्यक्ष राज कुमार राय को निलंबित कर दिया। रेल पुलिस व जिला पुलिस टीम आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी भी कर रही है। घटना के बाद तनाव है।

रेल एसपी के मुताबिक आरिफ ने जीआरपी जवान द्वारा छेडख़ानी किए जाने की झूठी अफवाह फैलाई और उसकी बेरहमी से पिटाई की। दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!