राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन की आज मंजूरी दे दी !

आखिरकार उत्तराखंड में राजनीतिक उथल-पुथल के बीच राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने राज्य में राष्ट्रपति शासन की आज मंजूरी दे दी। राष्ट्रपति भवन के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि राष्ट्रपति ने उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन लगाये जाने को मंजूरी दे दी है।
गौरतलब है कि उत्तराखंड विधानसभा के कुल 70 विधायकों में कांग्रेस के 36 विधायक थे जिनमें से 9 बाग़ी हो चुके हैं। भाजपा के 28 विधायक हैं जिनमें से एक निलंबित है। बसपा के दो, निर्दलीय तीन और एक विधायक उत्तराखंड क्रांति दल का है।

इससे पहले रविवार को ही उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने आरोप लगाया था कि भाजपा लगातार राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की धमकी दे रही है।

उन्होंने कहा था, “अहंकार में चूर केंद्र का शासक दल एक छोटे से सीमांत राज्य को राष्ट्रपति शासन लागू करने की धमकी दे रहा है।”
उल्लेखनीय है कि राज्य के राजनीतिक संकट पर विचार के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कल देर रात मंत्रिमंडल की बैठक बुलाई थी। राज्य के राजनीतिक घटनाक्रम को ध्यान में रखते हुए मंत्रिमंडल ने वहां राष्ट्रपति शासन लगाये जाने की सिफारिश की थी, जिस पर राष्ट्रपति ने आज मुहर लगा दी।

वही उत्तराखंड कांग्रेस के बागी विधायकों ने यहां एक स्टिंग ऑपरेशन की सीडी जारी कर कल ही दावा किया था कि मुख्यमंत्री हरीश रावत विधायकों की खरीद-फरोख्त में लगे हुए हैं। उनके अनुसार सीडी में मुख्यमंत्री खुद विधायकों की खरीद-फरोख्त के लिए बात कर रहे हैं।
इस सीडी के जारी होने के कुछ ही घंटे बाद भारतीय जनता पार्टी के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने राष्ट्रपति से भेंट करके हरीश रावत सरकार को तुरन्त बर्खास्त करने की मांग की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!