गोपालगंज: तीन हजार शौचालयों का एक सप्ताह में करें भुगतान, वरीय उप समाहर्ता ने दिया निर्देश

गोपालगंज: लोहिया स्वच्छ बिहार एवं स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत बनाये गए शौचालय प्रोत्साहन राशि भुगतान अब महज तीन हजार ही बाकी है। ऐसे में इसे एक सप्ताह के भीतर बने शौचालयों का प्रोत्साहन राशि देकर इस प्रकरण को बंद कर देने का संकल्प लेना होगा। तभी हम अपने मुकाम को हासिल कर पाएंगे। उक्त बातें कुचायकोट स्वरोजगारी भवन में शौचालय प्रोत्साहन राशि भुगतान, जिओ टैग और भौतिक सत्यापन का सभी नोडल, सहायक नोडल और स्वच्छता टीम के साथ समीक्षात्मक बैठक में वरीय उप समाहर्ता पिंकी कुमारी ने कही।

इन्होंने इस क्रम में प्रखण्ड के 31 पंचायतों के एक एक नोडल, सहायक नोडल और स्वच्छता टीम के सदस्यों के साथ बात करते हुए कहा कि 31 पंचायतों में अबतक करीब 26 हजार शौचालयों का प्रोत्साहन राशि का भुगतान कर दिया गया है। अब केवल करीब तीन हजार ही एलोबी डाटा के अनुसार भुगतान करना शेष है। इसे गंभीरता के साथ लेते हुए एक सप्ताह में भुगतान की अनुशंसा करें। ताकि समय पर लाभुकों को राशि दी जा सके। इस कार्य में कोताही बर्दास्त नहीं की जाएगी। चाहे वे कोई भी हो। बैठक में मौजूद सभी विकास मित्रों से कार्य प्रगति की समीक्षा भी की। जिसपर प्रसन्नता जाहिर करते हुए वरीय उप समाहर्ता ने अपने एक दिन का वेतन काटने के आदेश को वापस लेते हुए स्पष्टीकरण से सबको मुक्त कर दिया। वही भुगतान की प्रगति अच्छी नहीं रहने पर चेतावनी देते हुए कहा कि लापरवाह कर्मियों पर करवाई के लिए जिला पदाधिकारी को पत्र लिखा जाएगा। वही जिला समन्वयक रंजय बैठा ने कहा कि एलोबी डाटा में पूर्ण शौचालय का ही जियोटैग किया जाना चाहिए। साथ ही अंधनिर्मित, पुराना शौचालय का न तो जिओ टैग होगा और न ही भुगतान। ऐसा पाये जाने पर सख्त करवाई की जाएगी। इन्होंने यह भी कर्मियों को चेताया कि गड़बड़ी पाये जाने पर उस कर्मी से ही भुगतान की राशि वसूल की जाएगी।

इस मौके पर प्रखण्ड पंचायत राज पदाधिकारी नीतीश कुमार, सहकारिता पदाधिकारी ओम प्रकाश शर्मा, आवास पर्यवेक्षक अमिताभ कुमार सिंह, कमलेश शर्मा, जिला मास्टर ट्रेनर अनील कुमार यादव, विजय शर्मा, कंचन कुमार, ब्रजेश चौबे, अजित सिंह, अल्ताफ हुसैन, संजीव साह, अरुण कुमार सहित सभी ग्रामीण आवास सहायक, विकास मित्र, कचहरी सचिव सहित पंचायतों के नोडल और सहायक नोडल के साथ स्वच्छ्ता टीम के सभी सदस्य आदि थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!