गोपालगंज: सुमन अस्पताल में एचआईवी विषय एक दिवसीय प्रशिक्षण का हुआ आयोजित

गोपालगंज में सुमन अस्पताल के कॉन्फ्रेंस हॉल में एचआईवी विषय पर एक दिवसीय प्रशिक्षण सह उन्मुखीकरण कार्यशाला आयोजित हुई। प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन अहाना कार्यक्रम एचएलएफपीपीटी द्वारा बिहार राज्य एड्स नियंत्रण सोसायटी के तत्वाधान में किया गया। जिसमें जिले के प्रमुख प्राइवेट स्वास्थ्य संस्थानों के चिकित्सक व कर्मियों ने भाग लिया। कार्यक्रम का उदघाटन सुमन हॉस्पिटल के डॉ विशाल कुमार ने किया।

प्रशिक्षण कार्यक्रम को संबोधित करते हुये बिहार राज्य एड्स सोसायटी के मिथिलेश पांडेय कहा कि सभी गर्भवती महिलाओं का आवश्यक रूप से प्रसव पूर्व एचआईवी की जांच की जाय। एचआईवी के जांच में किसी प्रकार की लापरवाही नहीं बरती जाय। एचआईवी पीड़ित गर्भवती महिलाओं का प्रसव विशेष किट के माध्यम से पूरी तैयारी के साथ कराने का प्रावधान है। उन्होंने कहा कि एचआईवी संक्रमित गर्भवती महिला से बच्चे को तीन प्रकार का खतरा रहता है। वह है- जब बच्चा मां के गर्भ में हो, प्रसव के दौरान और जब मां बच्चे को दूध पिला रही हो। इससे बचाव पर भी प्रकाश डाला गया।

एचएलएफपीपीटी के पीएम अविनाश खन्ना ने प्राइवेट हॉस्पिटल द्वारा कराये जाने वाले जांच और उसकी रिपोर्ट भेजने की जानकारी दी। वहीं पीओ अजय कुमार ने कहा कि रजिस्टर्ड गभवती महिलाओं की जांच सरकारी अस्पतालों में जहां 70 फीसदी हुई वहीं प्राईवेट कुछ अस्पतालों ने अपनी जिम्मेदारी निभाते हुये शत प्रतिशत जांच करायी जिसमें सुमन हॉस्पिटल, मुस्कान क्लिनिक, आर्या हॉस्पिटल, जेके, नाद्या और आम हॉस्पिटल प्रमुख है।

मौके पर एफओ आमिन्दु देवी को पुरस्कृत भी किया गया तथा गर्भवती महिलाओं का शत प्रतिशत जांच करने को कहा गया।

कार्यक्रम में एफओ विकास कुमार श्रीवास्तव, पूनम देवी, अंजली देवी, तुफैल अहमद, रत्नेश्वर मिश्रा, सहित कई स्वास्थ्य कर्मी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!