गोपालगंज में बाइक की मांग पूरा नहीं होने पर पति ने पत्नी को जमकर पिटा फिर किया आग के हवाले

गोपालगंज में दहेज़ के लिए विवाहिता को जहा जिन्दा जला दिया गया। वही गंभीर रूप से झुलसी विवाहिता को सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया गया है। जहा पीडिता की हालत नाजुक बनी हुई है। घटना नगर थाना के हरखुआ गाँव की है। पीडिता के शरीर का पीछे और नीचे का हिस्सा पूरी तरह जल गया है। दहेज़ के लिए पीडिता से बाइक की मांग की जा रही थी। अब सवाल ये उठता है की क्या कोई इन्सान दहेज़ में महज एक बाइक के लिए इतना नीचे गिर सकता है।

पीडिता का नाम रूबी कुमारी है। वह नगर थाना के हरखुआ गाँव के रहने वाले रत्नेश कुमार की पत्नी है। रूबी की 08 साल पहले ही शादी हुई थी। शादी के दौरान रूबी ने अपनी बेटी के लिए हैसियत से बढ़कर इंतजाम किया और धूमधाम से शादी की। लेकिन शादी के महज कुछ महीने के बाद ही उसका पति दहेज़ में बाइक की मांग करने लगा। पीडिता के भाई ने बाइक देने की बात भी स्वीकार की थी। लेकिन इसके बावजूद रूबी को उसके पति के द्वारा नशे की हालत में पहले जमकर पिटाई की गयी और पिटाई के बाद पति और सास ने उसके शरीर पर किरासन का तेल छिड़कर उसे जिन्दा जलाने का प्रयास किया। रूबी को 5 साल और 3 साल की बेटी भी है। पीडिता इतनी यातना सहने के बाद भी अपने पति को मालिक कहकर पुकारती है।

सदर अस्पताल के बेड पर कराह रही पीडिता रूबी के मुताबिक उसके मालिक और सास मिलकर उसे पीछे से जला दिए। पति ने पहले पिटाई की और उसके बाद उसे आग के हवाले कर दिया। पति को दहेज़ में बाइक चाहिए था। पति ने धमकी भी दिया की अगर उसे बाइक नहीं मिला तो उसे जिन्दा जलाकर जान से मार दिया जायेगा।

पीडिता की माँ सुथरी देवी ने बताया की उसका पति लगातार बाइक की डिमांड करता था और बाइक नहीं मिलने पर जान से मारने की धमकी देता था।

बहरहाल पीडिता के बयान पर नगर थाना पुलिस ने फर्द बयान दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू कर दी है। घटना के बाद से ही आरोपी सास और पति फरार है। जबकि पीडिता का हालत नाजुक बनी हुई है।

गोपालगंज में दहेज़ का यह कोई पहला मामला नहीं है। जब दहेज़ के लिए बेटियो को जिन्दा मार दिया गया हो।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!