गोपालगंज पहुंचे सूबे के उपमुख्यमंत्री सुशिल कुमार मोदी, अधिकारिओ के साथ किया समीक्षा बैठक

बिहार के 25 जिलो के 280 प्रखंडो को सूखाग्रस्त घोषित किया गया था। जिसमे गोपालगंज के 14 प्रखंडो को शामिल किया गया था। अब कुल मिलाकर 14 लाख से ज्यादा किसानो के खाते में 925 करोड़ रूपये कृषि इनपुट अनुदान के रूप में डीबीटी के माध्यम से ट्रान्सफर किया गया है। पहली बार बिहार के सूखाग्रस्त क्षेत्र के किसानो के लिए यह बड़ी राशी अपने बजट से दिया गया है। ये बाते बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशिल कुमार मोदी ने गोपालगंज में कही। वे आज सोमवार को गोपालगंज जिला समाहरणालय परिसर में बाढ़ सुखाड़, मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना का अधिकारिओ के साथ समीक्षा बैठक कर रहे थे। बैठक संपन्न होने के बाद वे पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना के तहत 301 करोड़ रूपये किसानो को खाते में दिया गया है। सूमो ने किसानो से आग्रह किया है प्रधानमंत्री की महत्वाकांक्षी पीएम किसान सम्मान योजना एक तहत पत्येक साल 6 हजार रूपये यानी पांच साल में 30 हजार उनके खाते में दिया जायेगा। इसके लिए किसानो ने जो आवेदन दिया है। उसमे कई खामियां है। इसलिए किसान आवश्यक कागजात लगाये। ताकि उन्हें राशी का लाभ मिल सके। उन्होंने कहा की किसान सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। किसानो को महज 75 पैसे प्रति यूनिट की दर से बिजली का सप्लाई किया जायेगा। सुशिल मोदी ने कहा की बिहार की प्रमुख नल जल योजना को भारत सरकार ने स्वीकार कर लिया है। अब इस योजना को पुरे देश में चलाने की योजना है। बिहार में औसत से कम वर्षा हुई है। इस बार मानसून 21 जून तक आने की संभवाना है। गोपालगंज में बाढ़ की तैयारी पूरी कर ली गयी है। इसबार बाढ़ से गोपालगंज को कोई खतरा नहीं है। हर घर में शौचालय बनाने का कार्य 31 अगस्त तक पूरा कर लिया जायेगा।

इस बैठक में स्थानीय सांसद डॉ अलोक कुमार सुमन, विधायक मिथिलेश तिवारी, एमएलसी आदित्य नारायण पाण्डेय सहित कई विधायक व डीएम एसपी सहित सभी विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!