गोपालगंज में शादी समारोह में दुल्हन के पिता को गोली मारने वाला हत्यारोपी सहित दो गिरफ्तार

गोपालगंज के उचकागांव थाना क्षेत्र के बरारी जगदीश गांव में मंगलवार की देर रात अपने बेटी को कन्यादान देने के लिए बैठे पिता शंकर सहनी को मंडप से खींचकर गोली मारने वाले हत्यारोपी अमरजीत सहनी सहित और मामले में फरार चल रहे उसके छोटे भाई अर्जुन सहनी को थानाध्यक्ष सह केस के अनुसंधानकर्ता किरन शंकर ने गुप्त सूचना के आधार पर गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। इस दौरान पुलिस के पूछताछ में उसने अपनी संलिप्तता स्वीकार की है।

मंगलवार की देर रात बरारी जगदीश गांव के शंकर सहनी अपने आंगन में बने शादी के मंडप में बैठकर बड़े अरमान से अपनी छोटी बेटी की शादी की सारी रस्म पूरी कर उसे विदा करने के लिए कन्यादान करने के लिए मंडप में बैठे थे। इसी दौरान उनके दरवाजे पर पहुंचे कुछ अपराधिक किस्म के दबंगों द्वारा उन्हें मंडप से खींचकर घर के बाहर ले जाने के बाद सर पर पिस्टल सटा कर गोली मारकर उनकी हत्या कर दी थी। इस दौरान बीच-बचाव में आए उनके दो भाइयों सुरेन्द्र सहनी और संतोष सहनी सहित आधा दर्जन लोगों को भी रड, लाठी-डंडे से पीटकर जख्मी कर दिया था। मामले को लेकर मृतक शंकर सहनी के भाई सुरेंद्र साहनी के आवेदन पर गांव के एक ही परिवार के 11 लोगों के विरुद्ध हत्या और हत्या के प्रयास की प्राथमिकी थाने में दर्ज कराई गई थी। घटना के बाद हरकत में आई पुलिस द्वारा आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर दी थी। इस दौरान पुलिस द्वारा घटना के 24 घंटे के अंदर दो हत्याकांड में शामिल दो हत्यारोपित मुकेश सहनी उर्फ बबलू और करण सहनी उर्फ पोला साहनी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। मामले में शंकर सहनी को गोली मारने वाले आरोपी सहित नौ आरोपी फरार चल रहे थे। इस दौरान पुलिस को गुप्त सूचना मिली कि शंकर सहनी को गोली मारने वाला अपराधी अमरजीत सहनी अपने भाई अर्जुन सहनी के साथ बरारी जगदीश गांव पहुंचा हुआ है। जिसे पुलिस द्वारा गिरफ्तारी के लिए जाल फैलाने के बाद दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया। वैसे पुलिस अभी तक हत्याकांड में प्रयोग किए गए पिस्टल को अभी तक बरामद नहीं कर सकी है।

घटना के बाद से गांव में तनाव को देखते हुए पुलिस हर स्थिति पर नजर रखे हुए है। मामले में कई थानों का वांछित मनोज सहनी उसका वीरेश सहनी सहित सात आरोपी अभी भी फरार चल रहे है। जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस जगह-जगह छापेमारी कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!