गोपालगंज के विजयीपुर में अवैध नर्सिंग होम क्लीनिको की कट रही चांदी, नही होता कोई कारवाई

गोपालगंज जिला प्रशासन के आदेश पर शहर में जिस तरह अवैध रुप से चल रहे नर्सिंग होम, निजी क्लिनिक, पैथोलाँजी सेंटर और अल्ट्रासाउंड केंन्द्रों पर छापामारी करने का आदेश दिया गया है। अगर उसी तरह की छापेमारी विजयीपुर प्रखंड में होती तो शायद आज यहां अवैध रूप से काम करने वालों की चांदी नही कटती।

विजयीपुर में प्रखंड के विजयीपुर बाजार, मुसेहरी, बंगरा, अहियापुर, कुटिया, मझवलिया, जजवलिया, पागरा, दूसवा, जगदीशपुर सहित अन्य बाजारो में बिना किसी डिग्री हासिल किये ही दर्जनों फर्जी झोलाछाप डाक्टरो की क्लिनिक चल रही है। इतना ही नही इन जगहो पर एएनएम, आशा कार्यकर्ताओं की मिली भगत से छोटे बड़े आपरेशन बड़े पैमाने पर किया जा रहा है। हांलाकि इन झोलाछाप फर्जी डाक्टरों के कारण हर साल दो तीन मरीजो की मौत हो जाती है। विभागीय स्तर पर कोई जांच नही होने के कारण निजी क्लिनिकों के डाक्टरो की मनमानी चलती है। यहा ग्रामीण क्षेत्रों से मरीजों को बहला फुसलाकर निजी क्लिनिकों में भर्ती कराया जाता है और मनमाने ढंग से पैसा की वसुली की जाती है। अगर पिछले पांच साल में देखा जाए तो विजयीपुर प्रखंड के लगभग दर्जनों क्लिनिकों में अभी तक दर्जनों मरीजो की मौत हो चुकी है। लेकिन विजयीपुर में विभाग पर कोई असर नही पड़ता है।

इस संबंध में जब चिकित्सा प्रभारी से बात की जाती है तो कहते है कि टीम का गठन किया गया है बहुत जल्द ही छापेमारी कर करवाई की जायेगी। लेकिन फिर अगले दिन गठीत की गयी टीम भुल जाती है कि विजयीपुर में अवैध रूप से चल से फर्जी डिग्री हासिल करने वाले डाक्टरो क्लिनिक पर छापेमारी करना है।

.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!