कैंसर का टीका बनकर तैयार, ब्रिटिश महिला पर किया पहला प्रयोग

कैंसर से बचाने के लिए अब टीका तैयार हो गया है और एक ब्रिटिश महिला पर पहली इसका प्रयोग किया गया है। कैंसर के इस टीके का ईजाद हाल ही में किया गया है। कैंसर के इस टीके का ईजाद करने वाले वैज्ञानिकों का दावा है कि इस टीके को लगते ही कैंसर मरीज की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाती है और शरीर के अंदर कैंसर के ट्यूमर का खात्मा हो जाता है।

जिस ब्रिटिश महिला को ये टीका लगाया गया है, उसका नाम केली पॉटर है और उसकी उम्र 35 साल है। पिछले साल जुलाई में जांच के दौरान महिला को एडवांस्ड सर्वाइकल कैंसर होने की पुष्टि हुई थी।

केली को ये टीका लगाने के लिए ट्रायल के 30 लोगों की लिस्ट में शामिल किया गया। यह ट्रायल अगले 2 साल तक चलेगा। साथ ही इन मरीजों को कीमोथैरेपी के जरिये भी इलाज किया जाएगा। वैज्ञानिकों का दावा है कि इस वैक्सीन में एक खास तरह का प्रोटीन एंजाइम होता है जो कैंसर के सेल्स को तोड़कर धीरे-धीरे उसे खत्म कर देता है।

डॉक्टरों के मुताबिक केली का कैंसर चौथे स्टेज में पहुंच चुका था। केली को लंदन के गाइज अस्पताल में 9 फरवरी को ये टीका लगाया गया। कैंसर से लड़ रही केली ने य़े टीका लगने के बाद अपना अनुभव शेयर किया। केली से कहा कि अब को पहले से बेहतर महसूस कर रही हैं। शरीर में हो रहे बदलाव को अहसास उन्हें हो रहा है। साथ ही इस ट्रायल का हिस्सा केली बेहद खुश हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!