Fri. Aug 23rd, 2019

ग़ोपालगंज से फरार प्रेमी जोड़ा हुए सड़क हादसे का शिकार, प्रेमी की इलाज के क्रम में मौत

गोपालगंज के मीरगंज में घर से फरार प्रेमी जोड़ा एक सड़क हादसे का शिकार हो गये है।जिसमे प्रेमी की मौत इलाज के क्रम में हो गई। घटना यूपी के कुशीनगर जिले के पटहेरवा थाना के लतवा चट्टी के समीप एन एच 28 की है। रविवार की मीरगंज के जिगना तोताराम टोला गांव में प्रेमी का शव पहुंचते ही चीख पुकार मच गई। खबर सुनते ही गांव में मातम छा गया।

मिली जानकारी के अनुसार 23वर्षीय मिथिलेश सहनी और 20 वर्षीय पूजा कुमारी के बीच काफी दिनों से प्रेम प्रसंग चल रहा था। मामले की भनक जब दोनों के परिजनों को मिली तो उन्होंने दोनों पर बंदिशे लगा दी। इस बीच वे दोनों शादी करने के उद्देश्य से गांव छोड़ कर फरार हो गए और मंदिर में जा कर शादी कर ली। विगत 16 अप्रैल मंगलवार को जब वे दोनों बाइक से कुशीनगर के तरफ जा रहे थे कि तभी लतवा चट्टी के पास किसी वाहन के चपेट में आ गए और दोनों गंभीर रूप से जख्मी हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों के इलाज के लिए जिला अस्पताल कुशीनगर ले गई। स्थिति गंभीर होने के सूचना मिलने के बाद प्रेमी के परिजन बेहतर इलाज के लिए बीआरडी मेडिकल कॉलेज गोरखपुर ले गये। इस बीच शनिवार के शाम इलाज के दौरान प्रेमी मिथिलेश कुमार ने दम तोड़ दिया। जबकि प्रेमिका पूजा कुमारी की हालत गंभीर बताई जा रही है। मिथिलेश के मौत के बाद परिजन उसे अंतिम संस्कार के लिए घर शव लेकर आ गए। जबकि लड़की गंभीर हालत में लावारिस की तरह अस्पताल में पड़ी मौत से संघर्ष कर रही है।

ग्रामीणों ने बताया कि दोनों के बीच प्रेम प्रसंग काफी दिनों से चल रहा था। इस बीच होली के एक दिन बाद 22 मार्च को घर से लड़की फरार हो गई। तथा इसके दूसरे दिन बाद मिथिलेश भी घर छोड़कर फरार हो गया। दोनों घर से दूर जाकर मंदिर में शादी कर ली। इसके बाद प्रेमिका के परिजनों ने मीरगंज थाने में जाकर लड़के तथा उसके परिजनों के खिलाफ अगवा का मामला दर्ज करा दिया। इसके बाद मीरगंज पुलिस ने लड़की को बरामद कर न्यायालय में प्रस्तुत किया। जहां 164 के बयान के दौरान लड़की ने प्रेमी के साथ मरते दम तक साथ निभाने की बात कही थी।

प्रेमी मिथिलेश कुमार सहनी मल्लाह जाति से का था। जबकि प्रेमिका धानुक जाति से संबंध रखती थी। मामले के तूल पकड़ने के बाद प्रेमी के परिजन प्रेमिका को अपना वधू मानने को तैयार हो गए थे। जबकि लड़की पक्ष वाले किसी कीमत तैयार नहीं हुए। उनके हठधर्मिता के कारण एक तरफ जहां मिथिलेश प्रेम के बलिवेदी पर चढ़ गया। वही प्रेमिका भी जिन्दगी और मौत के सांसे गिन रही है। हद तो यह हो गई कि दुर्घटना की सूचना मिलने के बाद प्रेमी के परिजन मौके पर पहुंचे और दोनों को बचाने के लिए जी जान लगा दी पर लड़की पक्ष के लोग सब जानते हुए भी उनसे कन्नी काट लिया।

.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!