गोपालगंज के कुचायकोट में योजना में अनियमितता का आरोप लगाकर ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन

गोपालगंज में मुख्यमंत्री की महत्वाकांक्षी योजना हर घर नल का जल योजना पंचायत प्रतिनिधियों और पदाधिकारियों के उदासीनता से दम तोड़ता नजर आ रहा है। स्थिति यह है कि जिस वार्ड प्रबन्धन एवं क्रियान्वयन समिति को वार्ड में काम कराना है उसको यह भी पता नहीं की वार्ड में काम चल रहा है तो कैसे चल रहा है। ठेकेदार अपने मनमानी से गुणवत्ता को दरकिनार कर किसी तरह खानापूर्ति में लगे हैं। खास बात यह है संबंधित वार्ड सदस्य को यह भी नहीं पता की बैंक से जब उसके द्वारा राशि की निकासी की ही नहीं गई तो नल जल का काम किस मद से और कैसे कराया जा रहा है। कुचायकोट प्रखंड के बड़ाहरा पंचायत में वार्ड नंबर 6 का यह मामला लोगों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है।

गुरुवार को वार्ड की आक्रोशित लोगों ने ठेकेदार की मनमानी के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन भी किया। इस दौरान ग्रामीणों ने संबंधित कथनीय अभियंता को दर्जनों बार फोन कर उनसे संपर्क करने का कोशिश किया पर संपर्क नहीं हो सका। इस बारे में स्थानीय वीडियो को भी ग्रामीणों ने समस्या से अवगत कराया।

विदित हो कि कुचायकोट प्रखंड के बणहरा पंचायत के वार्ड नंबर 6 में हर घर नल का जल योजना के तहत काम कराया जा रहा है। यहा एचडीपीई पाइप डालने का काम चल रहा है। वार्ड में बोरिंग पहले ही लगाया जा चुका है। स्टेजिंग का काम भी हो चुका है। वार्ड के वार्ड सदस्य हरेंद्र राय का कहना है उन्होंने खाता खुलने के बाद से कभी पैसे की निकासी नहीं की। ऐसे में नल जल का यह काम कैसे और किसके द्वारा कराया जा रहा है उन्हें नहीं मालूम। उन्होंने कहा कि मुझे इस बात की भी जानकारी नही कि पंचायत द्वारा राषि का हस्तानान्तरण वार्ड प्रबन्धन एवं क्रियान्वयन समिति को किया गया है या नही। ग्रामीणों का कहना था कि मात्र 1 फीट गड्ढा खोदकर लोकल एचडीपीइ पाइप बिछाया जा रहा है। जब ग्रामीणों द्वारा इस बात का विरोध किया गया तो काम कर रहे मजदूरों का कहना था कि वह ठेकेदार के तरफ से काम करने आए हैं और उनके अनुसार ही काम करेंगे। इसके बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। उन्होंने जमकर नारेबाजी भी की। बाद में वार्ड के अध्यक्ष और कुछ अन्य वरीय लोगों के समझाने बुझाने के बाद आक्रोशित ग्रामीण शांत हुए।

इस बारे में जब कनीय अभियंता से संपर्क करने का प्रयास किया गया तो उनका फोन रिसीव नहीं हुआ। इस बारे में वीडियो दीपचंद जोशी का कहना था कि उन्हें भी मामले की जानकारी हुई है और इस पूरे मामले की जांच करा कर आवश्यक कार्रवाई करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!