मढ़ौरा व मधेपुरा रेल कारखानों पर हुई ‘प्रभु’ की मेहरबानी !

पेश हुए रेल बजट बिहार की मढ़ौरा और मधेपुरा रेल कारखानो पर विशेष तवज़्ज़ो दी है। लोकसभा में रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने साल 2016-17 का रेल बजट पेश किया। अपने कार्यकाल के दूसरे रेल बजट में सुरेश प्रभु ने लंबित रेल परियोजनाओं को पटरी पर लाने की कोशिश की है। उन्होंने कई ट्रेनों के मार्ग विस्तार किए हैं तो कुछ ट्रेनों के फेरे भी बढ़ाए हैं। बिहार की बात करें तो उन्होंने मढौरा और मधेपुरा रेल कारखानों के पीपीपी मोड पर निर्माण की घोषणा की है।

रेल बजट में रेल मंत्री ने कहा कि मढ़ौरा डीजल इंजन कारखाना व मधेपुरा इलेक्ट्रिक इंजन कारखाना के निर्माण कार्य चालू किए जाएंगे। यह काम पीपीपी मोड पर आरंभ किया जाएगा। इसके साथ ही रेलमंत्री ने धार्मिक स्थलों के रेलवे स्टेशनों के कायाकल्प करने की भी घोषणा की, जिसमें बिहार के गया और बिहारशरीफ स्टेशन भी शामिल है। इन स्टेशनों पर खासतौर पर यात्री सुविधा मुहैया करायी जाएगी और स्टेशनों का सौंदर्यीकरण किया जाएगा।

बिहार की रेल परियोजनाओं के लिए कुल 3171 करोड़ रुपये की मंजूरीनयी परियोजना के लिए 867 करोड़ की मंजूरीदोहरीकरण के लिए 185 करोड़ रुपये की मंजूरीआमान परिवर्तन के लिए 150 करोड़मुंगेर रेल पुल के लिए 375 करोड़ रुपये की मंजूरी दी गयी है। यातायात सुविधा के लिए 50.53 करोड़ रुपये वही यात्री सुविधा के लिए 38.64 करोड़ रुपये की मंजूर किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!