गोपालगंज पहुंचे बिहार के राज्यपाल, स्व महाराजा गोपेश्वर प्रताप शाही की मूर्ति का किया अनावरण

बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन आज गुरुवार को गोपालगंज पहुचे. यहाँ आने पर उनका भव्य स्वागत किया गया. निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक वे दोपहर में करीब एक बजे हथुआ के हथुआ पैलेस पहुचे. यहाँ पैलेस परिसर में ही उनके हेलीकाप्टर को उतरने के लिए हेलिपैड बना हुआ था. यहाँ उनके आते ही पहले गार्ड ऑफ़ ओनर की सलामी दी गयी. फिर इम्पीरियल पब्लिक स्कूल के छात्रो और छात्राओं के द्वारा उनका भव्य स्वागत किया गया. स्वागत कार्यक्रम संपन्न होने के बाद उन्होंने स्व महाराजा गोपेश्वर प्रताप शाही की भव्य मूर्ति का अनावरण किया.

मूर्ति के अनावरण कार्यक्रम संपन्न होने बाद राज्यपाल गोपेश्वर कॉलेज हथुआ में पहुचे. यहाँ उन्होंने छात्रो, अभिभावकों और कॉलेज के कर्मिओ सहित मौके पर मौजूद सैकड़ो लोगो को संबोधित करते हुए कहा की आज के भारत से देश में और सारी दुनिया में सब थरथरा रहे है कि अगर में शिव का तीसरा नेत्र खुल गया तो क्या होगा. आज भारत जिस ऊंचाईयों पर पंहुचा है. उसमे देश के सैनिको का कितना योगदान रहा होगा. कितना बलिदान रहा होगा. वे कैसे कैसे वीरता और शौर्य के उदहारण पेश कर रहे है. महामहिम ने कहा आज सारा देश सैनिको के परिवारवालों के साथ है. आज कोई कह नहीं सकता की आगे क्या होगा. आज नौजवान पहले से जायद सजग होकर देशप्रेम का प्रदर्शन कर रहे है. युवा अपने देश के लिये हमेशा बह्दुरो की तरह अपना बलिदान देने के लिए तैयार रहते है. ऐसा देश कभी कमजोर नहीं सकता है.

राज्यपाल की मौजूदगी में जेपी विश्वविद्यालय छपरा की अधीनस्थ संस्था गोपेश्वर कॉलेज हथुआ में कई नए विषयो की पढाई करने की घोषणा की गयी. राज्यपाल के आगमन को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गए है. यहाँ डीएम एसपी के अलावा जिले के कई वरीय पदाधिकारी और सुरक्षा कर्मी मौजूद है. कार्यक्रम के समापन के बाद महामहिम राज्यपाल दोपहर की भोज में शामिल हुए और फिर वापस पटना लौट गए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!