गोपालगंज में फिर सक्रीय हुआ नशाखुरानी गिरोह, कमाकर लौट रहे युवक को बनाया निशाना

गोपालगंज में आजकल फिर नशाखुरानी गिरोह के सदस्यों के सक्रियता बढ़ गई है। कुछ वक़्त से नशा ख़ुरानी लगभग बंद सा हो गया था, लेकिन आजकल पहले की उपेक्षा फिर से तेज़ी से बढ़ रहा है। लोग प्रदेश में कड़ी मेंहनत और ख़ुन पसीना एक करके काम करते है, ना धुप का चिंता और ना ही बारीश का चिंता, बस रात दिन काम ही काम करते रहना। भले कुछ खाये या न खाए, लेकिन घर वालो की चिंता हमेशा सताती रहती है कि मेरे घर वालो की जीवन कैसे बीतेगा, मेरे बच्चे कैसे पढनेंगे। इसी बात को लेकर घर से कुछ लोग दूर प्रदेश में जाकर रोज़ी रोटी तलाशते है, और खूब मेहनत करके कुछ पैसा भी कमाते है। जब पैसे कमाकर घर को आते है तो शहर में नशा ख़ुरानी गिरोह के लोग इनका बैठकर इंतेज़ार करते है कि कब कोई शिकारी आये और हम उनका शिकार करे।

गुजरात से कमाकर अपने घर लौट रहे एक युवक को नशा खुरानी गिरोह के बदमाशों ने लूट लिया। लूट का शिकार युवक सिधवलिया थाने के हसनपुर नश्या टोला गांव का जावेद बताया गया है। उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया गया। जावेद गुजरात में रहकर मजदूरी करता था। वह दो दिन पूर्व गुजरात से घर आने की बात अपने परिजनों से कह कर निकला था। सोमवार की शाम उसने अपने परिजनों से गोरखपुर से गोपालगंज आने की बात कही थी। लेकिन, देर रात तक वह अपने घर नहीं लौटा तो परिजन चिंतित हो गए। परिजन जावेद की काफी खोजबीन की पर उसका पता नहीं चला। इसके बाद जावेद के पिता शहर के बंजारी मोड़ स्थित स्टैंड में अपने बेटे के बारे में पता लगा रहे थे। इस दौरान किसी ने उनके मोबाइल पर फोन कर बताया कि उनका बेटा शहर के चिराई घर स्थित बस स्टैंड में बेहोशी की हालत में पड़ा है। इसके बाद परिजन वहां पहुंचे व इलाज के लिए सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया। जावेद के पिता ने बताया कि वह अपने दो-तीन साथियों का सामान भी लेकर आया था। जिसे नशा खुरानी गिरोह के सदस्यों ने लूट लिया। जावेद का 15 हजार रुपए का मोबाइल भी लूट लिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!