Thu. Aug 22nd, 2019

गोपालगंज: 20वें दिन भी डाटा ऑपरेटरों का हड़ताल जारी, ओपीडी पर्ची व दवा वितरण काउंटर बंद

गोपालगंज में शनिवार को 20वें दिन भी डाटा ऑपरेटर हड़ताल पर रहे। बिहार चिकित्सा एवं जन स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के आह्वान पर डाटा ऑपरेटरों की हड़ताल 21 जनवरी से हड़ताल के कारण सेवाएं पूरी तरह से चरमरा सी गई है।

आपको बता दें कि डाटा कर्मियों के हड़ताल पर जाने के बाद सरकार इनकी मांगाें पर विचार करते हुए मानदेय 11 हजार से बढ़ाकर 18 हजार 244 रुपए कर किया है । बावजूद इसके उक्त हड़ताली डाटा एंट्री आपरेटर अपने समायोजन की मांग को लेकर हड़ताल पर अड़े हुए हैं । जिले के सभी अस्पतालों में 35 डाटा ऑपरेटर कर्मी कार्यरत हैं। इनकी पांच सूत्री मांगे हैं। इसके तहत उनकी सेवा आउट सोर्सिंग एजेंसी के स्वामित्व से हटा कर राज्य स्वास्थ्य समिति या जिला स्वास्थ्य समिति के स्वामित्व में करना,मानदेय का भुगतान 11 हजार सुनिश्चित करना, अनुबंध की अवधी 7 साल करना,सेवा अवधि को 60 साल तक किया जाना शामिल है।

डाटा ऑपरेटरों की हड़ताल से ऑन लाईन रोगी पंजीकरण का कार्य बाधित है। वहीं आयुष्मान भारत योजना के तहत लाभुकों का गोल्डेन कार्ड नहीं बना रहा है। इसके अलावा ऑन लाईन दवा वितरण, ई-औषधि व एक्स-रे पंजीकरण का काम ठप है।

शनिवार को हड़ताली कर्मियों ने सदर अस्पताल परिसर में धरना व प्रदर्शन किया। इस दौरान सरकार विरोधी नारे भी लगाए गए। धरना दे रहे डाटा ऑपरेटरों ने कहा कि वे राज्य कमेटी के निर्देशानुसार आंदोलन को और तेज करेंगे।

धरने पर रागनी कुमारी,पुनम चौबे,घनश्याम मिश्रा,सुनील राय,विनय कुमार,अजाद अंसारी,रमेश कुमार,राजु कुमार शत्रुध्न कुमार, रंजना कुमारनिकेश कुमार, मनीष मिश्रा,अंशिका राय,रंजीत सहित कई डाटा आॅपरेटर शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!