गोपालगंज के तीन प्रतिभागियों ने बीपीएससी में लहराया परचम, जिला का नाम किया रौशन

गोपालगंज में तीन प्रतिभागियों ने बीपीएससी परीक्षा में बेहतर रैंक लाकर जिले के नाम रोशन किया है। यह प्रतिभागी अलग-अलग प्रखंडो के है। जिसमे भोरे, थावे और सिधवलिया के प्रतिभागी शामिल है।

बता दें कि बिहार लोक सेवा आयोग के 60 -62 वीं संयुक्त परीक्षा में थावे के आनंद ने 27 रैंक लाकर जिला का गौरव बढाया है। थावे बाजार के कपड़ा दुकानदार सुरेन्द्र प्रसाद का पुत्र आनंद शुरू से ही मेधावी था। वह कक्षा एक से लेकर हाईस्कूल तक की पढाई सरकारी विद्यालयों में किया। जबकि थावे के मुखी राम उच्च विद्यालय से हाईस्कूल में बिहार में प्रथम स्थान लाने के बाद उसे तत्कालीन डीएम द्वारा सम्मानित किया गया था। जिसके बाद वह उच्च शिक्षा के लिए पटना चला गया। वहां पटना यूनिवर्सिटी से उसने ग्रेजुएशन की पढाई पूरी कर बीपीएससी के प्रयास में लग गया तथा साथ वह पोस्ट ग्रेजुएट के साथ-साथ तैयारी भी जारी रखा। तीसरे प्रयास में उसने 27 वा रैंक लाकर जिले को नाम रौशन किया है। उसे पुलिस विभाग में डीएसपी का पद मिला है। अपनी सफलता का पूरा श्रेय वह अपने पिता सुरेन्द्र प्रसाद माँ इंदु देवी शिक्षक अपने परिवार तथा रिश्तेदार को दिया है।

जबकि भोरे केसुजीत ने भी बीपीएससी में चयनित होकर भोरे प्रखंड के साथ-साथ जिले के नाम भी रौशन किया है। उसे बीपीएससी में 155 वा रैंक लाया है। बता दें कि प्रखंड के मिश्रौली गांव निवासी हरेंद्र बरनवाल एवम मंजू देवी के पुत्र सुजीत बरनवाल अपने चयन का पूरा श्रेय दादा,पिता और माँ को दिया है। उसने प्रथम प्रयास में ही 155 वा रैंक प्राप्त किया है। इनकी सफलता में इनके शिक्षकों का बहुत योगदान रहा है। ये अपने पिता हरेंद्र बरनवाल को सफलता का विशेष श्रेय देते है जिन्होने संघर्ष के समय आर्थिक और मानसिक रुप से समर्थन किया। सुजीत ने वर्ष 2007 में देवरिया के सरस्वती विद्या मंदिर से दशवीं में 90% पाकर जिले में तीसरा स्थान प्राप्त किया था। सुजीत का लक्ष्य संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा पास कर डीएम बनना है। अत:वह अब भी यूपीएससी की तैयारी में लगे है। गांव के लाल को इनती बड़ी सफलता मिलने पर गांव के लोगो में खुशी व्याप्त है।

वही तीसरा प्रतिभागी सिधवलिया प्रखंड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय करस घाट पूरब के टीईटी शिक्षक जावेद अख्तर ने भी बिहार लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित परीक्षा में सफलता हासिल कर जिला का नाम रौशन किया। जावेद ने तीसरी बार में यह सफलता हासिल की और उसे कमर्शियल टैक्स ऑफिसर के पद प्राप्त की है। सिधवलिया प्रखंड के पड़रिया निजामत गांव सलामुद्दीन सिद्दकी के पुत्र जावेद ने सफलता का पूरा श्रेय अपने माँ पिता और गुरुजन को दिया है। इनके सफलता पर सभी टीईटी शिक्षकों में खुशी की लहर है। टीईटी शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष जितेंद्र कुमार यादव ने उन्हें बधाई देते हुए संघ द्वारा सम्मानित करने की घोषणा की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!