गोपालगंज: थावे जीआरपी व सिधवलिया थाना की लापरवाही से एक जख्मी पिता की मौत

गोपालगंज जिले के शेर हाल्ट पर एक वृद्ध को उतरने के क्रम में गंभीर चोट लग गई। चोट को देख उसके पुत्र ने थावे जीआरपी और सिधवलिया पुलिस को लगातार फोन कर मदद की गुहार लगाई। पर शायद इन्हें इनके पिता के जख्मी होने से कोई फर्क नही पड़ रहा था। दोनो प्रशासनिक विभागों ने संवेदनहीनता की सारी हदों को पार कर दिया था। बाद में स्थानीय लोगो की मदद से वृद्ध को निजी गाड़ी में इलाज के लिए सदर अस्पताल में भेजा गया। लेकिन रास्ते में ही घायल वृद्ध की मौत हो गयी। हद तो तब हो गयी जब कल रात से ही पीड़ित परिजन अपने वृद्ध पिता का पोस्टमार्टम कराने के लिए थावे जीआरपी और सिधवलिया पुलिस से गुहार लगा रहे है। लेकिन 18 घंटे बीत जाने के बाद भी मृतक का पोस्ट मार्टम नहीं कराया जा सका है।

घटना के बारे में मिली जानकारी के अनुसार सिधवलिया थाना के शेर निवासी सद्दाम हुसैन अपने 60 वर्षीय पिता साहेब हुसैन के साथ सिधवलिया से लौट रहे थे। स्टेशन पर ट्रेन से उतरने के दौरान ट्रेन धीरे धीरे चलने लगी। जिससे उसके पिता उतरने के दौरान ट्रेन में फंस गए और वे गंभीर रूप से जख्मी हो गये। घटना के बाद उन्हें किसी तरह स्थानीय लोगो की मदद से गाड़ी में बैठकर गोपालगंज सदर अस्पताल में लाया जा रहा था। लेकिन रास्ते में ही उनकी मौत हो गयी।

पीड़ित रिश्तेदार मेराज आलम ने बताया कि घटना के बाद मदद के लिए सिधवलिया थाना और रेल जीआरपी को बार बार फ़ोन किया गया। लेकिन मदद के लिए कोई सामने नहीं आया। वही जब मृतक का पोस्ट मार्टम कराने के लिए उन्होंने दोनों जगहों पर कॉल किया तो पोस्ट कराने के लिए भी क्षेत्र विवाद को लेकर दोनों अधिकारी नहीं आये। जिसकी वजह से वे अठारह घंटे से ज्यादा वक़्त से वे अपने पिता का पोस्ट मार्टम कराने के लिए इंतजार कर रहे है।

वही मामले को लेकर परिजनों ने पूर्व विधायक व राजद जिलाध्यक्ष रियाजुल हक़ राजू से गुहार लगायी है। पूर्व विधायक ने जिला प्रशासन से अविलम्ब मृतक का पोस्ट मार्टम कराने की अपील करते हुए आन्दोलन करने की धमकी दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!