गोपालगंज में बिजली बनाने के क्रम में पोल से गिरने से मिस्त्री की मौत, उग्र ग्रामीणों ने किया आगजनी

गोपालगंज के मीरगंज नगर के केसरी मुहल्ले में बिजली बना रहा मिस्त्री हाई टेंशन तार के चपेट में आ गया। जिससे उसकी मौत हो गई। घटना के बाद नगर में कोहराम मच गया। परिजन और ग्रामीण उग्र होकर सड़क पर उतर गए तथा एनएच 85 को मीरगंज पावर हॉउस के सामने आगजनी कर जाम कर दिया। घटना की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पंहुच गई।

बता दें मीरगंज नगर के केशरी मुहल्ला में बिजली के खम्भे पर चढ़कर उसी थाना के सवरेजी गांव निवासी और मानव बल के रूप में कार्य कर रहे 55 वर्षीय बिजली मिस्त्री जई दुबे काम कर रहे थे। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि बिजली की मरम्मत करने ऊपर चढ़े मिस्त्री ऊपर पहुंचे ही थे कि अचानक नीचे गिर गए और उनका सर फट गया। घटना के बाद मौके पर अफरा-तफरी मच गई। जहां से घायल को इलाज के लिए अस्पताल लाया गया। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

बिजली मिस्त्री के मौत के बाद उनके पैतृक गांव के लोग और अन्य साथी घटना को बिजली विभाग की लापरवाही बताते हुए प्रदर्शन करने लगे। उन्होंने गोपालगंज-सिवान मुख्य मार्ग एनएच 85 को जाम पावर हॉउस के सामने जाम कर दिया तथा प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। इस दौरान मीरगंज सब स्टेशन पर हंगामे को देखते हुए नगर में बिजली आपूर्ति ठप कर दी गई थी। प्रदर्शनकारियों का कहना था मृतक मिस्त्री को मुआवजा और अन्य सुविधाएं तत्काल दी जाय। इस मौके पर मनोबल के अन्य कर्मी भी प्रदर्शन में शामिल हो गए और मुआवजा समेत सभी अन्य सुविधाएं तत्काल देने की मांग करने लगे। तीन घंटे तक जाम के बाद मौके पर पंहुचे हथुआ एसडीओ अनिल कुमार रमण ने चार लाख दुर्घटना का मुआवजा 20 हजार परिवारिक लाभ तथा 3 हजार रुपया कबीर अन्तेयष्टि के देने के बाद लोग शांत हो सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!