गोपालगंज के जगरी टोला में आगलगी में 12 झोपड़ियां जलकर खाक, 4 बकरियों की झुलसकर मौत

जब लोग अपने घरो में दिवाली का जश्न मना रहे थे. वे पटाखे छोड़ रहे थे. तब उसी दौरान गोपालगंज सदर प्रखंड के जगरीटोला पंचायत में आगलगी ने एक एक कर ग्यारह घरो को अपनी चपेट में ले लिया और देखते ही देखते ग्यारह झोपड़ियाँ राख में तब्दील हो गयी. घर में रखे लाखो रूपये गहने और कीमती गहनों की कौन कहे. यहाँ घर में रखे सभी अनाज भी जलकर ख़ाक हो गए. अब इन अगलगी पीडितो का बस एक ही दर्द है कि ये अब छठ पर्व कैसे मनाएंगे.

गोपालगंज सदर प्रखंड के जगरीटोला पंचायत के वार्ड नम्बर में एक में किसी ने सोचा भी नहीं था की घर का चिराग ही पूरे गाँव को अपनी चपेट में ले लेगा. जानकारी के मुताबिक इस वार्ड में बीती रात घर में रखे दिवाली की दीपक से अचानक एक झोपडी में आग लग गयी. आग लगने के दौरान घर के सभी सदस्य सोये हुए थे. इसलिए आग लगने की भनक किसी को नहीं लगी. देखते ही देखते यह आग इस कदर विकराल हुई की एक एक कर गाँव की ग्यारह झोपडिया आग में स्वाहा हो गयी. इस अगलगी में लाखो के नुक्सान का आकलन किया गया है. इसमें चार मवेशी की भी झुलसकर मौत हो गयी है.

पीड़ित दिलीप यादव ने बताया कि वे घर में रात को सोये हुए थे. करीब 12 बजे गाँव के पश्चिमी इलाके में आग लगी और देखते ही देखते यह आग गाँव के पूर्वी तरफ बढ़ने लगा. जिसमे उनका घर भी आग की चपेट में आ गया. दिलीप यादव ने बताया की उनके 22 हजार रूपये नगदी , सोने और चांदी के गहने, कपडे, बर्तन और अनाज सबकुछ जल गया है. उनके घर में खाने के लिए कुछ भी नहीं बचा है. ठंढी रात में उन्हें सोने के लिए एक छत था वह भी अब ख़तम हो गया है. घर में अब छठ पूजा कैसे होगा. बस इसी बात की चिंता है.

इस अगलगी में सिर्फ दिलीप यादव का आशियाना नहीं उजड़ा है. बल्कि इसी गाँव के राजेश यादव, महेश यादव, धनेश यादव, विद्या देवी, रामजी प्रसाद, सुदामाँ, बच्चा राम, प्रभु, विजय और जटा राम भी शामिल है. जिनका इस अगलगी में सबकुछ ख़तम हो गया है.

राजेश यादव के मुताबिक घर में कुछ नहीं बचा. जबतक कोई आग पर काबू पाने की कोशिश करता तबतक सबकुछ नष्ट हो गया था. पीड़ित इंदु देवी ने बताया की प्रशासन की तरफ से कोई कर्मचारी आया था. वे सूचि बनाकर गए है. अभी तक कुछ भी मुआवजा नहीं मिला है. किसी तरह उन्होंने अपने बच्चे को घर से लेकर बाहर निकाला और अपनी जान बचायी.

वही सदर प्रखंड के सीओ विजय कुमार सिंह ने बताया की जगरीटोला पंचायत के वार्ड नम्बर एक में बीती रात भीषण आग लगी. जिसमे ग्यारह घर जलकर ख़ाक हो गए है. सभी पीडितो को तत्काल प्रभाव से प्रत्येक परिवार 98 – 98 सौ रूपये का चेक और प्लास्टिक की चादर दी जा रही है. उन्हें सरकारी प्रावधान के मुताबिक सरकारी सहायता उपलब्ध करायी जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!