गोपालगंज में व्यवसायी हत्याकांड के करीब दो सप्ताह के बाद भी अपराधी पुलिस की पकड़ से बाहर

गोपालगंज के दियारा इलाके में बीते 07 सितम्बर को 35 वर्षीय व्यवसायी सुनील कुमार साह की गोलिओ से भुनकर फिर गला रेतकर निर्मम हत्या कर दी गयी थी. इस हत्याकांड के करीब दो सप्ताह के बाद भी अपराधी पुलिस की पकड़ से बाहर ही. जबकि इस हत्याकांड के बाद से ही इस इलाके में भय और दहशत का माहौल है.

बैकुंठपुर प्रखंड मुख्यालय से करीब 30 किलोमीटर लक्ष्मीगंज गाँव के रहने वाले सुनील साह की दो सप्ताह पूर्व बंगरा घाट पुल के समीप दिनदहाड़े गोलिओ से भुनकर हत्या कर दी गयी थी. हत्या के बाद अपराधियो ने मृतक का गला भी निर्मम तरीके से रेत दिया था.  इस घटना के बाद घर में शोक का माहौल है. हर तरफ पुलिस प्रशासन के खिलाफ लोगो में गुस्सा है.

मृतक की भाभी इंदु देवी के मुताबिक सुनील अपनी पत्नी को लाने के लिए ससुराल जा रहे थे. तभी बेख़ौफ़ अपराधियो ने उनकी हत्या कर दी. हत्या के बाद अभीतक किसी भी पुलिस के जवान यहाँ पदाधिकारी ने घर वालो से मिलना मुनासिब नहीं समझा. जबकि इस घटना से दो माह पूर्व ही उनके घर में घुसकर सुनील साह के ऊपर जानलेवा हमला हुआ था. जिसमे वे बाल बाल बाख गए थे. बावजूद इसके पुलिस के द्वारा कोई सुरक्षा नहीं दी गयी. जिसकी वजह से यह घटना हुई.

बैकुंठपुर विधानसभा के पूर्व विधायक व जदयू के प्रदेश महासचिव मंजीत कुमार सिंह के मुताबिक सुनील साह का परिवार व्यवसायी वर्ग से ताल्लुक रखता है. बेख़ौफ़ अपराधियो ने रास्ते से उनका अपहरण कर बेरहमी से हत्या कर दी थी. पूर्व विधायक के मुताबिक बंगरा घाट पुल के पाया नम्बर एक समीप जहा उनकी हत्या की गयी थी. वहा पुल निर्माण की सुरक्षा के लिए करीब 16 सैप के जवान तैनात थे. बावजूद इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया. जो गोपालगंज पुलिस की नाकामी को दर्शाता है. मंजीत सिंह ने कहा की उन्होंने इस सिलसिले में मुजफ्फरपुर के आईजी सुनील कुमार से बात कर जल्द से जल्द अपराधियो की पहचान कर उनकी गिरफ़्तारी करने और इस इलाके में एक ओपी थाना स्थापित करने की मांग की है.

बहरहाल इस घटना के बाद से जनप्रतिनिधियो का पीड़ित परिवार से मिलने का सिलसिला जारी है. लेकिन सुरक्षा की जिम्मेदारी जिन प्रशासनिक अधिकारिओ पर है वे अभी तक पीड़ित परिवार से मिलने से कतरा रहे है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!