गोपालगंज में छठ घाट को अतिक्रमण से मुक्त कराने के लिए सैकड़ो ग्रामीण आमरण अनशन पर बैठे

गोपालगंज में पोखरा और छठ घाट को अतिक्रमण से मुक्त कराने के लिए सैकड़ो ग्रामीण आमरण अनशन पर बैठ गए है. आमरण अनशनकारिओ में महिलाये, बुजुर्ग और बच्चे भी शामिल है. सभी प्रदर्शनकारी गोपालपुर थाना के विनोद खरेया गाँव के है और सभी लोग गाँव के समीप जहा पोखरा घाट पर अतिक्रमण किया गया है. वही सामूहिक भूख हड़ताल पर बैठ गए है.

आमरण अनशन पर बैठे गावं के सबसे बुजुर्ग व्यक्ति रामदीन तिवारी उर्फ़ गांधी जी ने बताया की विनोद खरेया गाँव के सार्वजनिक पोखरा घाट और छठ घाट पर वर्षो से अतिक्रमण कर लिया गया है. इस अतिक्रमण को लेकर उन्होंने स्थानीय सीओ से लेकर डीएम को पत्र लिखा और इसे अतिक्रमण मुक्त करने की मांग की. लेकिन बार बार मांग करने के बाद भी जब उनकी मांग पूरी नहीं की गयी. तो वे लोग आज शनिवार से आमरण अनशन पर बैठ गए है. गाँधी जी ने कहा की जबतक उनकी मांग पूरी नहीं की जाएगी. तबतक यहाँ महिलाये, बुजुर्ग और बच्चे अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर रहेंगे. अभी तक सिर्फ आश्वासन ही मिला है. इसलिए मांग पूरी होने तक उनका अहिंसा का यह अनोदोलन जारी रहेगा.

हलाकि स्थानीय कुचायकोट के कई बीडीओ सहित कई पदाधिकारी और कर्मी मौके पर पहुचकर प्रदर्शन कर रहे लोगो को समझाने का प्रयास कर रहे है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!